Home » इंडिया » Government Apps : These 5 government apps installed in your phone immediately, will be very useful
 

5 Government Apps : अगर आपके फोन में नहीं हैं ये 5 सरकारी ऐप तो तुरंत कर लें इंस्टॉल, नहीं रुकेगा कोई काम

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 January 2020, 15:56 IST

Useful Government Apps: अगर आप भी स्मार्टफोन रखते हैं तो आपके फोन में ये पांच सरकारी ऐप्स जरूर होने चाहिए. केंद्र की मोदी सरकार पिछले काफी समय से डिजिटल इंडिया को बढ़ावा दे रही है. इसकी बदौलत आज गूगल प्ले स्टोर और एप स्टोर पर कई ऐसे सरकारी एप्स मौजूद हैं, जिनसे आपको बहुत फायदा होगा. हम आपको ऐसे ही 5 सरकारी ऐप्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपके लिए बहुत फायदेमंद हैं-

M-Aadhar:

UIDAI का एम-आधार ऐप आपके लिए बहुत काम का ऐप है. इसमें आपको कई सारी सुविधाएं मिलेंगी. इस ऐप में आप आधार कार्ड को डिजिटल फॉर्मेट में अपने पास रख सकते हैं. इसमें आप अपनी बायोमेट्रिक जानकारी को भी सुरक्षित रख सकते हैं. इस ऐप का साइज मात्र 45 एमबी है. जरूरत पड़ने पर आप ऐप के जरिए आधार कार्ड भी दिखा सकते हैं.

Voter Helpline

इस ऐप के माध्यम से आपको चुनाव से जुड़ी हर प्रकार की जानकारी मिलेगी. यह ऐप अपने यूजर्स को कैंडिडेट्स से लेकर नामांकन तक की सभी जरूरी जानकारी प्रदान करता है. लोग इस एप के जरिए वोटर लिस्ट में अपना नाम भी चेक कर सकते हैं. इस एप का साइज एंड्रॉयड पर 16 एमबी और आईओएस पर 15.6 एमबी है.

My Gov

My Gov ऐप सरकार का बेहद खास ऐप है. इस ऐप के जरिए आप सरकार के विभागों और मंत्रालयों को सुझाव दे सकते हैं. यह ऐप गूगल प्ले स्टोर और ऐप स्टोर पर उपलब्ध है. अगर आपके पास किसी भी सरकारी योजना को लेकर कोई सुझाव अथवा आइडिया सरकार को देने के लिए है तो इस ऐप के माध्यम से आप दे सकते हैं.

DigiLocker

डिजिलॉकर ऐप में आप अपने जरूरी दस्तावेज सुरक्षित रख सकते हैं. जैसे ड्राइविंग लाइसेंस और पैन कार्ड को इस ऐप में डिजिटल फॉर्मेट में रख सकते हैं. अपने कॉलेज के सर्टिफिकेट भी आप इसमेंं सेव करके रख सकते हैं. इससे आपको अपने साथ दस्तावेजों की हार्ड कॉपी रखने की जरूरत नहीं पड़ेगी. यह ऐप गूगल प्ले स्टोर और ऐप स्टोर पर मौजूद है. ऐप की साइज 7.2 एमबी है.

Himaat Plus

इस ऐप को खासकर महिला सुरक्षा के लिए बनाया गया है. ऐप को इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले यूजर्स को दिल्ली पुलिस की आधिकारिक साइट पर जाकर अपने-आप को रजिस्टर कराना होगा. इस ऐप की खूबी यह है कि यूजर अगर इससे मुश्किल परिस्थितियों में अलर्ट भेजता है, तो यह जानकारी सीधा पुलिस कंट्रोल रूम तक पहुंच जाती है. सिर्फ यही नहीं पुलिस को अलर्ट में यूजर की लोकेशन और ऑडियो जैसी जानकारी भी मिलती है.
 
 

First published: 14 January 2020, 11:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी