Home » इंडिया » third day of pathankot airbase attac
 

घटनाक्रम: पठानकोट हमला, तीसरा दिन, मुठभेड़ जारी

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 January 2016, 15:30 IST
QUICK PILL
  • शनिवार सुबह पठानकोट एयरबेस पर हुए हमले का आज तीसरा दिन है. एयरबेस पर अभी भी दो आतंकियों के छिपे होने की खबर है.
  • सोमवार सुबह भी एयरबेस के अंदर से धमाके और फायरिंग की आवाजें आ रही है. अभी तक पांच आतंकी मारे गए हैं जबकि सेना के सात जवानों समेत कुल आठ लोग शहीद हुए हैं.

पठानकोट एयरबेस पर आतंकी हमले का आज तीसरा दिन है. सोमवार सुबह भी एयरबेस के अंदर रुक-रुक कर फायरिंग की आवाजें सुनाई दे रही हैं. इसके अलावा कुछ धमाके होने की भी खबर है.

इससे पहले रविवार शाम सुरक्षाबलों ने पांचवें आतंकियों को मार गिराया था. शनिवार सुबह-सुबह पठानकोट एयरबेस पर हुए हमले में अब तक सात जवान भी शहीद हुए हैं.

पुलिस अधिकारियों के अनुसार दो और आतंकियों के एयरबेस के अंदर छिपे होने की आशंका है. एनआईए और एनएसजी की टीम मौके पर है. सुरक्षाबलों का सर्च ऑपरेशन जारी है.

कैब बुक करके एयरबेस के करीब पहुंचे थे आतंकी

शनिवार तड़के तीन बजे आतंकियों ने एयरबेस पर हमला किया था. आतंकियों की पहली मुठभेड़ एयरफोर्स की क्विक रेस्पॉन्स टीम के साथ हुई. पहली मुठभेड़ में ही एक आतंकी मारा गया था. शनिवार शाम तक तीन और आतंकी मारे गए. शुरुआती गोलीबारी के दौरान ही एयरफ़ोर्स के गरुड़ कमांडो की मौत हो गई थी.

सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में अब तक पांच आतंकवादी मारे गए हैं

खबर है कि आतंकियों ने पाकिस्तान से फोन कर कैब बुक कराई थी. पाकिस्तान सीमा से मात्र 15 किमी दूर पठानकोट एयरबेस सैन्य सुविधाओं वाला बड़ा बेस है. यहां से मिग-21 फाइटर जेट और एमआई-35 अटैक हेलीकॉप्टर उड़ान भरते हैं.

pathakot.jpeg

'हमले का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा'

शनिवार को हुई मुठभेड़ के बाद गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बयान दिया था कि पठानकोट एयरबेस पर हमले का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा. उन्होंने कहा, "हम शांति चाहते हैं लेकिन अगर भारत पर आतंकवादी हमला हुआ तो इसका मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा.''

पीएम मोदी ने की हाईलेवल मीटिंग, एनएसए चीफ अजित डोभाल ने दी हालात की जानकारी


इससे पहले शनिवार को राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया था, ''मैं पठानकोट अभियान में सभी पांच आतंकवादियों का सफलतापूर्वक सफाया करने के लिए अपने सशस्त्र बलों एवं अन्य सुरक्षाबलों को बधाई देता हूं.''

हालांकि उन्होंने बाद में यह ट्वीट हटा लिया.
pathankot1.jpeg

लेफ्टिनेंट कर्नल ईके निरंजन हुए शहीद

इस हमले में केरल के रहने वाले एनएसजी कमांडो लेफ्टिनेंट कर्नल ईके निरंजन भी शहीद हो गए. निरंजन हमले के बाद काॉम्बिंग ऑपरेशन में हमलावरों के लगाए एक बम को बेकार करते हुए मारे गए.

इंजीनियर रहे निरंजन 2004 में शॉर्ट सर्विस कमीशन के जरिए सेना में शामिल हुए थे. बाद में उन्होंने स्थायी कमीशन ले लिया.

जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े हैं आतंकी

मीडिया में आई खबरों के अनुसार आतंकी 30 दिसंबर को गुरदासपुर से लगी सीमा से भारत में घुसे थे. इन्हें  जैश-ए-मोहम्मद का सदस्य बताया जा रहा है. बताया जा रहा है कि आतंकियों को बहावलपुर में ट्रेनिंग मिली.

मारे गए आतंकी एके-47, हैंड ग्रेनेड, जीपीएस सिस्टम समेत भारी गोला बारूद से लैश थे. आतंकवादी शनिवार तड़के तीन बजे लैंड क्रूजर और पजेरो गाड़ी से पठानकोट एयरबेस पहुंचे थे. कहा जा रहा है कि आतंकियों की पाकिस्तान के बहावलपुर में 6 महीने तक ट्रेनिंग हुई और वे अल रहमत ट्रस्ट से जुड़े हैं.

pathankot2.jpeg

पीएम मोदी नेे की हाईलेवल मीटिंग

आतंकी हमले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार रात हाई लेवल बैठक की, बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल, विदेश सचिव एस जयशंकर समेत अहम अधिकारी शामिल हुए.

बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पठानकोट में आतंकी हमले को लेकर हालात की समीक्षा की. राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने पीएम को ताजा हालात की जानकारी दी.

First published: 4 January 2016, 15:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी