Home » इंडिया » This tea from Guwahati made record inprice, sold in 40 thousand rupees
 

देश मेें इस जगह 40,000 रुपये किलो में बिक रही चाय, खूबी जानकर रह जाएंगे हैरान

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 August 2018, 12:18 IST

गुवाहाटी में आयोजित टी ऑक्शन में दुनिया की सबसे मंहगी चाय बेची गयी. एक महीने में दूसरी बार गुवाहाटी में ये वर्ल्ड रिकॉर्ड की कीमत पर चाय बेचीं गई. इस चाय को अरुणाचल प्रदेश के दोन्यी पोलो टी एस्टेट की एक वैरियंट गोल्डन नीडल्स टी को ऑक्शन में सबसे ज्यादा रुपये में बेचा गया. ये चाय की कीमत में अब तक का वर्ल्ड रिकॉर्ड था. इस गोल्डन नीडल्स टी को 40 हजार रुपये प्रति किलोग्राम में बेचा गया.

एक महीने में ये दूसरी बात हुआ है जब चाय को इतने ज्यादा दामों पर खरीदा गया हो. इसके पहले 24 जुलाई को भी इसी ऑक्शन सेंटर में असम के मनोहारी टी एस्टेट की एक स्पेशल चाय को 39,001 रुपये प्रति किलो में बेचा गया था. मनोहारी टी एस्टेट की ये चाय एक स्पेशल ऑर्थोडॉक्स टी के नाम से फेमस है.

 

मीडिया सूत्रों के मुताबिक चाय कारोबारियों का कहना है, 'गुरुवार को जीटीएसी ने अपना वर्ल्ड रेकॉर्ड तोड़ दिया. दोन्यी पोलो टी एस्टेट की गोल्डन नीडल्स ऑक्शन के दौरान 40 हजार रुपये प्रति किलो बिकी.'

क्या है गोल्डन नीडल्स टी की खासियत

इस चाय की खासियत ये है कि केवल ने अंकुरित पाटियों से ही इसे बनाया जाता है. इसकी उत्पत्ति अरुणाचल सीमा पर चीन के युवान प्रांत में की जाती है. इस चाय को बनाने के लिए विशेष ट्रीटमेंट की जरुरत होती है क्योंकि इसे केवल नई अंकुरित पत्तियों को तोड़ कर ही बनाया जाता है.

ये नई अंकुरित पत्तियां बहुत ही ज्यादा छोटी और मखमली होती हैं जिनके टूटने की संभावना ज्यादा होती है. इसके अलावा इस चाय को बनाने के लिए किसी भी बड़ी पत्ती का यूज़ नहीं किया जा सकता. इसी खासियत के कारण ही ये चाय इतने महंगे दामों में बेची गई. 

दोन्यी पोलो टी एस्टेट के मैनेजर मनोज कुमार का इस चाय के बारे में कहना है, 'इस तरह की चाय तैयार करने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ती है. सिल्वर नीडल्स वाइट टी 17,001 रुपये प्रति किलो बिकती है. इस तरह की चाय तभी बन सकती है, जब चाय के बागान में सटीक कार्यकुशलता के साथ प्राकृतिक संसाधनों का इस्तेमाल हो.'

First published: 24 August 2018, 12:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी