Home » इंडिया » This young man isolation even after coming to COVID-19 Test Report Negative
 

कोरोना जांच की रिपोर्ट आई नेगेटिव फिर भी आइसोलेशन में है ये युवक, जानिए क्या है वजह

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 April 2020, 11:11 IST
(प्रतीकात्मक फोटो)

Corona Virus: दुनियाभर में फैले कोरोना वायरस (Corona Virus) के प्रकोप के बीच ऐसी तमाम खबरें सामने आ रही हैं, जिनमें बताया जा रहा है कि कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) या कोविड-19 (COVID-19) जैसे लक्षण दिखाई देने वाले तमाम लोग छिपे हुए हैं. वो अपनी जांच नहीं कराना चाहते. जिससे उन्हें आइसोलेशन (Isolation) में न रखा जाए. लेकिन दिल्ली में एक शख्स ऐसा भी है जिसका कोरोना टेस्ट (Corona Test) निगेटिव आया है यानी उसकी कोरोना टेस्ट में इस बात की पुष्टि हुई है कि उसे कोरोना नहीं है, बावजूद इसके वह आइसोलेशन में रह रहा है.

जहां एक ओर लोग आइसोलेशन के नाम से ही घबरा रह हैं वहीं दूसरी ओर इस युवक का आइसोलेशन में रहना लोगों को चौंका देता है. दरअसल, पूर्वी दिल्ली के सूरजमल विहार में रहने वाले नकुल चोपड़ा बीते 18 मार्च को लंदन से दिल्ली पहुंचे थे. दिल्ली आने के बाद इन्हें 5 दिन के लिए सफदरजंग अस्पताल में रखा गया. जहां नकुल की दो बार कोरोना की जांच की गई. दोनों बार नकुल की जांच में कोरोना नेगेटिव आया. इसके बाद नकुल को घर भेज दिया गया. बावजूद इसके नकुल उसी दिन से घर में अकेले अपने कमरे में रह रहे हैं. 


नकुल के भाई राहुल का कहना है कि हमारा पूरा परिवार नकुल की रिपोर्ट आने के बाद से बेहद खुश है, लेकिन नकुल ने खुद को आइसोलेशन में रखा है. राहुल बताते हैं कि अगर सरकार चाहे तो फिर से जांच कर सकती है, हम चाहते हैं कि देश और परिवार के मामले में कोई कोताही न बरती जाए. खुद नकुल बताते हैं कि ऐसा नहीं है कि मेरा कमरे से बाहर आने का मन नहीं करता, लेकिन परिवार और देश के लिए कुछ दिन कमरे में रहने में कोई गुरेज नहीं है.

नकुल जैसे नौजवानों की खुद को आइसोलेट रखने की कहानी देश के अन्य लोगों और युवाओं को भी ऐसा करने के लिए प्रेरित करेंगे. क्योंकि देखा जा रहा है कि 21 दिन के लॉकडाउन के बीच भी देशभर में ऐसे तमाम मामले सामने आ रहे हैं जहां लोग लॉकडाउन का उल्लंघन कर बिना वजह घरों से बाहर निकल रहे हैं जिससे वो खुद की ही नहीं बल्कि समाज की परेशानियों को बढ़ाने का काम कर रहे हैं. अगर देश का हर नागरिक नकुल की तरह समझदार हो जाए तो सरकार और प्रशासन को इसके लिए मुसीबत नहीं उठानी पड़ेगी.

कब ख़त्म होगा कोरोना वायरस ? चीन के COVID-19 एक्सपर्ट ने किया बड़ा खुलासा

कोरोना वायरस: दुनियाभर में एक दिन में 4,890 मौतें, मरने वालों का आंकड़ा 47 हजार के पार

कोरोना वायरस से अमेरिका में दो लाख लोगों की जा सकती है जान- व्हाइट हाउस

First published: 2 April 2020, 11:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी