Home » इंडिया » Three ex-judges of Supreme Court in row for Lokpal's post
 

लोकपाल पद की दौड़ में सुप्रीम कोर्ट के तीन पूर्व जज भी

आशीष कुमार पाण्डेय | Updated on: 14 January 2016, 18:51 IST

देश में एक समय आंदोलन और विवाद का सबब रहा लोकपाल जल्द ही नियुक्त हो सकता है. लोकपाल पद की दौड़ में सुप्रीम कोर्ट के तीन पूर्व न्यायाधीश, एक उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश, यूजीसी के पूर्व सदस्य और  सूचना आयुक्त के साथ कई अन्य मशहूर हस्तियां शामिल हैं.

सुभाष अग्रवाल के आवेदन पर कार्मिक मंत्रालय ने यह लिस्ट इन्फॉर्मेशन कमिश्नर सुधीर भार्गव के आदेश पर जारी की है.

इसमें बताया गया है कि सुप्रीम कोर्ट ने ज्ञानसुधा मिश्रा, सीके प्रसाद और बलबीर सिंह को इस पद के लिए नामित किया है. ये तीनों ही सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज रहे हैं.

इसके अलावा इस सूची में झारखंड हाईकोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश एम करपागा विनयंगम, यूजीसी के पूर्व सदस्य और पूर्व सूचना आयुक्त एमएम अंसारी के साथ-साथ पूर्व सूचना आयुक्त श्रीधर आचार्यलू, टीचर अरूण गणेश जगदेव, सामाजिक कार्यकर्ता चंद्रभूषण मिश्रा, पत्रकार गुलशन कुमार बाजवा, वकील विनय भूषण भाटिया, भारतीय पुलिस सेवा के पूर्व अघिकारी के नंदबालन के साथ कई ऐसे ही तमाम लोगों ने इस महत्वपूर्ण पद के लिए आवेदन किया है.

पूर्व आईएएस राम सजीवन ने मध्य प्रदेश सरकार की संस्तुति पर आवेदन की तारीख बीत जाने के बाद अपना आवेदन भेजा. जिसे स्वीकार कर लिया गया है.

सूचना आयुक्त सुधीर भार्गव ने इस लिस्ट की जानकारी देते हुए बताया कि कार्मिक मंत्रालय के द्वारा जारी इस लिस्ट से आम लोगों के बीच चयन प्रकिया में पारदर्शिता और निष्पक्षता को बल मिलेगा.

चयन समिति ने पद के लिए आवेदन करने वालों को निर्देश दिया था कि पद की गंभीरता को देखते हुए वो अपने आवेदन को किसी भी प्रकार से उजागर न करें.

भारत में लोकपाल और लोकायुक्त एक्ट संसद में 2013 में पास हुआ था.

First published: 14 January 2016, 18:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी