Home » इंडिया » Thunderstorm alert Highlights Delhi NCR Uttar Pradesh Haryana and North India Schools will remain closed Indian weather
 

आंधी-तूफान मचा सकता है कहर, दिल्ली-NCR, यूपी और हरियाणा में स्कूल बंद

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 May 2018, 10:06 IST

उत्तर भारत में एक बार फिर तूफान कहर बरपा सकता है. सोमवार रात दिल्ली एनसीआर सहित पश्चिमी उत्तर प्रदेश और पूर्वी हरियाणा में चली तेज हवाओं ने तूफान आने के संकेत दे दिए हैं. रात में चली तेज हवा 70 किलोमीटर प्रति घंटे की बताई जा रही है. तूफान की आशंका को देखते हुए दिल्ली एनसीआर सहित कई स्थानों पर स्कूलों को बंद कर दिया गया है.

तूफान के कहर से बचने के लिए दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, हरियाणा, मेरठ, अलीगढ़ और हाथरस में स्कूलों को बंद करने के आदेश दिए गए हैं. वहीं दिल्ली में मंगलवार को सेकेंड शिफ्ट के स्कूल बंद रहेंगे. दिल्ली के मयूर विहार इलाके का एमिटी स्कूल भी मंगलवार को बंद रहेगा. स्कूल की प्रिंसिपल प्रियंका मेहता के मुताबिक भारतीय मौसम विभाग की चेतावनी के बाद स्कूल को बंद रखने का फैसला लिया गया है.

वहीं उत्तर प्रदेश के मेरठ में भी मंगलवार को पहली से 12वीं कक्षा तक के सभी स्कूल बंद रहेंगे. इसके साथ ही अलीगढ़ और हाथरस में भी नर्सरी से कक्षा 8 के सभी सरकारी और निजी स्कूलों को दो दिन के लिए बंद कर दिया गया है. तूफान को लेकर जारी हुए अलर्ट के मद्देनजर जिला प्रशासन ने 8 और 9 मई को स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया है.

एनसीआर के गाजियाबाद में मंगलवार को स्कूलों को बंद रखने के आदेश दिया गया है. गाजियाबाद के जिलाधिकारी ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है. ट्ववीट में कहा गया है कि आंधी- तूफान के चलते मंगलवार को गाजियाबाद के सभी स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे

हरियाणा में भी दो दिन के लिए सभी स्कूल बंद

आंधी-तूफान के मद्देनजर हरिणाया सरकार ने भी सभी सरकारी और गैर सरकारी स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया है. तूफान को देखते हुए हरियाणा के सभी स्कूल मंगलवार को बंद रहेंगे. इस पर पीएमओ ने सवाल पूछा तो मौसम विभाग के (DDGM) देवेंद्र प्रधान ने बताया कि हरियाणा सरकार को स्कूल बंद करने के लिए कोई एडवाइजरी नहीं दी गई.

दरअसल भयंकर तूफान और बारिश की आशंकाओं के बीच हरियाणा सरकार ने सोमवार और मंगलवार को प्रदेश के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों की छुट्टियां घोषित की थीं. हरियाणा के करीब 350 प्राइवेट और 575 सरकारी स्कूल सोमवार को बंद रहे और मंगलवार को भी बंद रहेंगे.

वहीं राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी ट्वीट कर कहा है कि राज्य सरकार इस प्राकृतिक आपदा से निपटने के लिए पूरी तरह से मुस्तैद है. साथ ही उन्होंने लोगों से अपील की है कि जरूरत पड़ने पर वो एक दूसरे की मदद करें और अफवाहों पर ध्यान ना दें.

अगले 48 घंटों में भारी तबाही का अनुमान

मौसम विभाग की जानकारी के बाद देश के कुल 13 राज्यों और 2 केंद्र शासित प्रदेशों में अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग ने कहा है कि अगले 48 घंटों में कुदरत कहर बरपा सकता है. छह पूर्वोत्तर राज्यों में भारी बारिश की उम्मीद है. महाराष्ट्र के विदर्भ में भी कुछ इलाकों में लू की चेतावनी दी गई है.

कई राज्यों में आ सकती है तेज आंधी

मौसम विभाग ने जानकारी दी है कि मौजूदा पश्चिमी विक्षोभ के कारण उत्तर और पूर्वोत्तर भारत के तमाम इलाकों में आंधी और तेज हवाएं चलती रहेंगी. इसके बावजूद राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश, भीतरी महाराष्ट्र के सभी इलाकों में तापमान 40 से 44 डिग्री रहेगा. वहीं तेलंगाना, रायलसीमा तथा भीतरी उड़ीसा के कुछ इलाकों में तापमान ऐसा ही रहने का अनुमान है. बता दें कि हाल ही में 5 राज्यों में आए आंधी-तूफान ने 124 लोगों की जान ले ली थी, जबकि 350 से ज्यादा लोग घायल हुए थे.

 

First published: 8 May 2018, 10:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी