Home » इंडिया » Tis Hazari Court: Monika Bhardwaj CCTV Footage Lawyers harassed IPS Officer
 

तीस हजारी कांड: हाथ जोड़ते दिखाई दी आईपीएस मोनिका भारद्वाज, वकीलों की भीड़ ने किया ये हाल, देखेंं Video

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 November 2019, 13:16 IST

तीस हजारी कोर्ट परिसर में वकीलों और पुलिस के बीच हुई हिंसा का नया वीडियो सामने आया है. इस वीडियों में दिल्ली पुलिस डीसीपी नार्थ मोनिका भारद्वाज वकीलों के सामने हाथ जोड़ते हुए दिखाई दे रही हैं. आईपीएस मोनिका भारद्वाज वकीलों के शांत होने की अपील कर रही है. लेकिन वकीलों का झुड़ उन पर टूट पड़ता है और उन्हें और उनके साथियों को धक्का देते हुए पीछे धकेल देता है. वीडियो में, इस दौरान वकील मोनिका भारद्वाज और दिल्ली पुलिस के बाकी के अधिकारियों के साथ जमकर बदसलूकी करते हुए दिखाई दे रहें है. बता दें, गुरूवार को भी इस मामले से जुड़ा एक वीडियो सामने आया था जिसमें तीस हजारी कोर्ट परिसर में वकीलों द्वारा मोनिका भारद्वाज के साथ की गई मारपीट साफ तौर पर दिखाई दे रही थी.

डीसीपी नार्थ मोनिका भारद्वाज ने इस वीडियो के सामने आने के बाद कहा कि इस दौरान उनके साथ मारपीट की गई थी. साथ ही उनकी सर्विस रिवाल्वर भी उनसे छीन ली गई थी और वो अभी तक लापता है. दिल्ली पुलिस प्रवक्ता अनिल मित्तल ने कहा कि इस घटना से संबधित एफआईआर में महिला अधिकारी का बयान भी जोड़ा जाएगा.

 

दिल्ली पुलिस डीसीपी नार्थ मोनिका भारद्वाज से मारपीट का वीडियो सामने आने के बाद महिला आयोग ने इस मामले को स्वत: संज्ञान में लिखा है. महिला आयोग अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा, 'मैं इसकी निंदा करती हूं. इस मामले का स्वत: संज्ञान ले रही हूं और बार काउंसिल के साथ दिल्ली के पुलिस कमिश्नर को लिखूंगी.'

बता दें, तीस हजारी कोट में बीते गुरूवार को हुए वकीलों और पुलिस के बीच झड़प के बाद हाईकोर्ट ने इस मामले का स्वत: संज्ञान लिया था. हाईकोर्ट ने अपने आदेश में  वकीलों और पुलिस के बीच हुए झड़प वाले दिन किसी भी वकील पर जांच पूरी होने तक कोई एफआईआर दर्ज नहीं करने का आदेश दिया था. इस मामले में हाईकोर्ट ने दो पुलिस अफरसों का तबादला कर दिया था. दिल्ली पुलिस के स्पेशल सीपी लॉ एंड ऑर्डर (नॉर्थ) संजय सिंह और उत्तरी जिले के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त हरेंद्र कुमार का तबादला किया गया था.

बता दें, तीस हजारी कोट में बीते गुरूवार को हुए वकीलों और पुलिस के बीच झड़प के बाद हाईकोर्ट ने इस मामले का स्वत: संज्ञान लिया था. हाईकोर्ट ने अपने आदेश में  वकीलों और पुलिस के बीच हुए झड़प वाले दिन किसी भी वकील पर जांच पूरी होने तक कोई एफआईआर दर्ज नहीं करने का आदेश दिया था. इस मामले में हाईकोर्ट ने दो पुलिस अफरसों का तबादला कर दिया था. दिल्ली पुलिस के स्पेशल सीपी लॉ एंड ऑर्डर (नॉर्थ) संजय सिंह और उत्तरी जिले के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त हरेंद्र कुमार का तबादला किया गया था.

15 साल के इस गेंदबाज ने हासिल किया बड़ा मुकाम, कर ली अनिल कुंबले के इस रिकॉर्ड की बराबरी

First published: 8 November 2019, 12:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी