Home » इंडिया » Train Accident In Amritsar During Ravan Dahan In Dussehra Celebrations 60 People Died And Many Injured
 

दशहरा के दौरान पंजाब में भीषण ट्रेन हादसा, रावण दहन देख रहे लोगों को ट्रेन ने रौंदा, 60 की मौत 51 घायल

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 October 2018, 11:06 IST

शुक्रवार की शाम पूरा देश में विजयदशमी का त्योहार मना रहा था. बुराई पर अच्छाई की विजय के इस त्योहार के दौरान ही पंजाब के अमृतसर से दिल दहला देने वाली खबर आई कि, दो ट्रेनों ने सैकड़ों लोगों को रौद दिया. जिसमें 60 लोगों की मौत हो गई और 51 लोग घायल हो गए.

हादसा उस वक्त हुआ जब सैकड़ों लोग विजयदशमी त्योहार के दौरान रावण दहन का कार्यक्रम देख रहे थे. हादसा अमृतसर शहर के करीब जोड़ा रेलवे फाटक के पास हुआ. अमृतसर के सिविल हॉस्पीटल के चीफ मेडिकल ऑफिसर ने हादसे में 60 लोगों के मरने और 51 के घायल होने की पुष्टि की है. मरने वालों की संख्या में इजाफा हो सकता है. क्योंकि घायलों में कई की हालत नाजुक बनी हुई है.

पंजाब सरकार ने हादसे के कारणों का पता लगाने के लिए जांच के आदेश दिए हैं. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि वो शनिवार को अमृतसर जाएंगे. रेल राज्यमंत्री मनोज सिंह और रेलवे बोर्ड के चेयरमैन भी मौके पर पहुंचे हैं. अमृतसर ट्रेन हादसे पर पीएम नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सहित सभी बड़े नेताओं ने दुख जताया है.

दक्षिण रेलवे ने हादसे के बाद हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं. नई दिल्ली रेलवे स्टेशर पर जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर- 01123342954, 01123341074, 01142622280 & 1072- 4  और रेलवे नंबर 22280 पर अमृतसर हादसे से जुुड़ी जानकारी हासिल की जा सकती है.

पंजाब सरकार ने हादसे के कारणों का पता लगाने के लिए जांच के आदेश दिए हैं. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि वो शनिवार को अमृतसर जाएंगे. रेल राज्यमंत्री मनोज सिंह और रेलवे बोर्ड के चेयरमैन भी मौके पर पहुंचे हैं. अमृतसर ट्रेन हादसे पर पीएम नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सहित सभी बड़े नेताओं ने दुख जताया है.

हादसे के बाद देर रात रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा और रेलवे के चेयरमैन भी घटनास्थल पहुंचे. रेलवे का कहना है कि हादसे के वक्त फाटक बंद था. हादसा फाटक से कुछ दूरी पर हुआ. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक रेलवे ट्रेक के इर्द-गिर्द लोगों की सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं किए गए थे. रावण दहन के साथ ही ट्रेन आ गई, लेकिन शोरशराबा की वजह से लोगों को ट्रेन की आवाज नहीं सुनाई दी. जैसे ही ट्रेन आई वहां भगदड़ मच गई और कई लोग ट्रेन की चपेट में आ गए.

First published: 20 October 2018, 1:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी