Home » इंडिया » Tremors in Northern India, 5.8 magnitude on Richter Scale
 

भूपंक के झटकों से दो बार थर्राया उत्तर भारत, एक महिला की मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 February 2017, 10:54 IST
(फाइल फोटो)

सोमवार रात भूकंप के तेज झटकों से उत्तर भारत के कई हिस्से हिल गए. करीब 15 सेकेंड तक लोगों ने इन्हें महसूस किया. भूकंप का केंद्र रुद्रप्रयाग, उत्तराखंड के पीपलकोटी में जमीन के 33 किलोमीटर नीचे था. रिक्टर पैमाने पर इस भूकंप की तीव्रता 5.8 थी. इस दौरान एक महिला की भी मौत हो गई.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक सोमवार रात करीब 10:35 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए. इन झटकों के बाद लोगों में दहशत फैल गई. वहीं, देर रात 1:52 बजे एक बार फिर से भूपंक के झटकों ने उत्तर भारत को हिला दिया. 

दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर), देहरादून, मथुरा, शामली, सहारनपुर और चंडीगढ़ में भी झटके महसूस किए गए. झटके इतने तेज थे कि लोग डर से अपने घरों से बाहर निकल आए. हालांकि, खबर लिखे जाने तक इन क्षेत्रों से किसी भी प्रकार की हानि की सूचना नहीं मिली.

भूकंप का असर मध्य प्रदेश के उत्तरी अंचल में भी देखा गया. स्थानीय मौसम केंद्र के अनुसार मध्य प्रदेश के ग्वालियर और चंबल अंचल के अलावा कुछ अन्य स्थानों पर भी भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए. यहां ग्वालियर, दतिया, टीकमगढ, छतरपुर और सागर में मामूली झटके महसूस किए गए.

जानकारी के मुताबिक रुद्रप्रयाग के उखिमठ में घरों की दीवारों में दरारें आ गईं. तेज सर्दी के बावजूद लोग डर की वजह से घरों में नहीं गए. वहीं, उत्तराखंड के कालीमठ घाटी मेें एक महिला की मकान गिरने से मौत हो गई.

भूकंप आने की जानकारी मिलने के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) सक्रिय हो गया. पीएम मोदी ने हालात का जायजा लिया और अधिकारियों के साथ इस आपदा से निपटने के लिए बातचीत की. इस दौरान एनडीआरएफ की चार टीमों को उत्तराखंड रवाना किया गया.

उधर, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भी प्रदेश के इस चुनावी माहौल में आपदा से निपटने के लिए तेजी दिखाते हुए रात में ही जिलाधिकारी से बात की. रावत ने बताया कि इस तरह की आपदा से निपटने के लिए हम तैयार हैं. इसके लिए एनडीआरएफ को अलर्ट कर दिया गया है. पिछले कुछ दिनों से ऐसे हल्के झटके आ रहे हैं, जिसे देखते हुए लोगों को पहले अलर्ट किया गया था.

First published: 7 February 2017, 10:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी