Home » इंडिया » Tripura Governor Tathagat Roy is back with another tweet on Ghulam Ali
 

अबकी बार 'पाकी' गुलाम अली आए तथागत रॅाय के निशाने पर

अभिषेक पराशर | Updated on: 10 February 2017, 1:47 IST
QUICK PILL
  • कोलकाता में पाकिस्तानी गजल गायक गुलाम अली के कार्यक्रम को लेकर त्रिपुरा के गवर्नर तथागत रॉय ने उन पर हमला बोला है. रॉय ने हर प्रसाद शास्त्री का हवाला देते हुए कहा कि \'इस धरती पर पाकियों का सबसे ज्यादा अत्याचार बंगाली हिंदुओं ने सहा है.\'
  • पिछले साल शिव सेना के विरोध के बाद गुलाम अली के मुंबई और पुणे का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया था. इसके बाद ममता बनर्जी ने उन्हें कोलकाता आने का न्योता दिया था.

त्रिपुरा के राज्यपाल तथागत रॉय काम से ज्यादा अपने ट्वीट को लेकर सुर्खियों में रहते हैं. रॉय ने इस बार पाकिस्तानी गजल गायक गुलाम अली पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, 'पाकी गायक गुलाम अली कोलकाता में है. इस धरती पर पाकियों का सबसे ज्यादा अत्याचार बंगाली हिंदुओं ने सहा है. हर प्रसाद शास्त्री का कहना है कि बंगाली इसे भूल गए हैं.' 

तथागत रॉय ने हर प्रसाद शास्त्री के हवाले से यह ट्वीट किया है जो 1920 में कोलकाता विश्वविद्यालय में संस्कृत के प्रोफेसर हुआ करते थे. शास्त्री का यह दावा रहा है कि टीपू सुल्तान ने ब्राह्मणों के नरसंहार का आदेश दिया था. उनके इस दावे को लेकर जबर्दस्त विवाद हो चुका है.

पिछले साल शिव सेना के विरोध की वजह से मुंबई और पुणे में गुलाम अली के कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया था. शिव सेना के विरोध के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उन्हें कोलकाता में कार्यक्रम पेश करने का न्योता दिया था. गुलाम अली सोमवार को कोलकाता पहुंचे.

gulam.jpg

तथागत रॉय ने इसी कार्यक्रम को लेकर गुलाम अली पर निशाना साधा है. रॉय इससे पहले भी कई वैसे ट्वीट कर चुके हैं जिस पर खासा विवाद हो चुका है. इससे पहले पठानकोट हमले के दौरान भी उन्होंने एक के बाद एक ट्वीट कर विवाद पैदा कर दिया था. 

दागदार अतीत

4 जनवरी को उन्होंने ट्वीट किया, 'मेरी यह सलाह है कि आतंकवादियों के शव के साथ रूस की तरह बर्ताव किया जाए. उन्हें सूअर की खाल में लपेटकर सूअर के मल में ढक दिया जाए. फिर हूर की संभावना ही खत्म हो जाए.'

रॉय अक्सर किसी के हवाले से ऐसी ट्वीट करते हैं. 4 जनवरी वाली ट्वीट उन्होंने अमेरिकी जनरल जॉन पर्सिंग के तरीकों का हवाला दिया था. उन्होंने पर्सिंग के हवाले से लिखा था, '50 इस्लामी आतंकियों को फिलीपीन में एक फायरिंग दस्ते के सामने रखा गया और उनमें से 49 को सूअर के खून से सनी गोली मारी गई. इसके बाद उन्होंने 50वें आतंकियों को यह मैसेज अपने साथियों के बीच देने के लिए छोड़ दिया कि उसके साथी आतंकी सूअर की वजह से नरक में सड़ेंगे.'

इस बार उन्होंने हर प्रसाद शास्त्री के बयान की मदद लेते हुए गुलाम अली पर हमला किया है. रॉय इससे पहले भी कई ट्वीट कर गुजरात में 2002 में हिंदुओं की कार्रवाई पर खुशी जता चुके हैं. इसके अलावा वह 'पश्चिम बंगाल के इस्लामी अधिग्रहण का हव्वा' भी खड़ा कर चुके हैं.

First published: 12 January 2016, 5:59 IST
 
अभिषेक पराशर @abhishekiimc

चीफ़ सब-एडिटर, कैच हिंदी. पीटीआई, बिज़नेस स्टैंडर्ड और इकॉनॉमिक टाइम्स में काम कर चुके हैं.

पिछली कहानी
अगली कहानी