Home » इंडिया » Two Shiv Sena MPs have been requesting for bridge construction, Prabhu says lack of funds
 

ब्रिज बनवाने के नाम पर सुरेश प्रभु ने कहा था, 'फंड नहीं है'

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 September 2017, 16:20 IST

मुंबई के फुटओवर ब्रिज भगदड़ कांड में एक नया खुलासा हुआ है. भगदल में 22 लोगों की मौत होने के बाद शिवसेना के दो सांसद सामने आए हैं. उन्होंने दावा किया है कि साल 2015-16 में उन्होंने सुरेश प्रभु को चिट्ठी लिखकर मांग की थी कि एलफिंस्टन ब्रिच को चौड़ा किया जाए.

सांसदों के मुताबिक इसके जवाब में तत्कालीन रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने फंड की कमी का हवाला देते हुए मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया था. तब रेल मंत्री ने सांसदों से कहा था कि अभी ग्लोबल मार्केट में मंदी है और फंड की कमी है. अगर तब इस चिट्ठी पर कदम उठाया गया होता तो आज हुआ हादसा टल सकता था.

शिवसेना सांसद राहुल शिवाले ने 2015 और दूसरे सांसद अरविंद सावंत ने 2016 में फुटओवर ब्रिज को चौड़ा करने की मांग उठाते हुए चिट्ठी लिखी थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सांसदों ने यह मामला रेलमंत्री के अलावा संसद में भी उठाया था. बावजूद इसके, किसी ने भी इसपर गंभीरता नहीं दिखाई और शुक्रवार को 22 लोग बेमौत मारे गए.

First published: 29 September 2017, 16:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी