Home » इंडिया » two suspect arrested from ratnuchak military station area jammu suspect sending videos to pakistan
 

पाक की बड़ी आतंकी साजिश नाकाम, आर्मी की गुप्त जानकारी भेज रहे थे 2 संदिग्ध, सेना ने किया गिरफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 May 2019, 9:11 IST

जम्मू के रतनूचक आर्मी स्टेशन से जुड़ी जानकारी पाकिस्तान को भेजने के मामले का खुलासा हुआ है. इस मामले में सेना ने दो संदिग्ध को गिरफ्तार किया है, ये संदिग्ध आरोपी वीडियो और फोटोग्राफी कर रहे थे. सेना को इन संदिग्धों के पास से दो मोबाइल भी बरामद हुए हैं. इन मोबाइल की जांच से पता चला है कि इससे ज्यादातर पाकिस्तान में कॉल लगाए गए हैं. इन नंबरों में से एक पर वीडियोज भी भेजे गए हैं. इस वीडियो में आर्मी स्टेशन की पूरी जानकारी है.

कुछ लोगों ने दो युवक को मंगलवार की शाम को रतनूचक इलाके में संदिग्ध गतिविधियां करते देखा. उन लोगों ने फौरन इसकी सूचना वहां तैनात जवानों ने अधिकारियों को दी, जिसके बाद सेना ने वहां पहुंचकर दोनों संदिग्ध को पकड़ लिया. बताया जा रहा है कि ये युवक इस दौरान पाकिस्तान को आर्मी स्टेशन का वीडियो भेज रहे थए. खबरों के मुताबिक, दोनों से मीरा साहिब के ज्वाइंट इंटेरोगेशन सेंटर में पूछताछ की जा रही है.

PM मोदी के शपथ ग्रहण में शामिल होंगी ममता बनर्जी, 30 मई को है समारोह

इस मामले के सामने आने के बाद से पुलिस और अन्य सुरक्षा एजेंसियां मौके पर मौजूद हैं. इसके साथ ही सुरक्षा एजेंसी की टीम संदिग्ध के अन्य साथियों की जानकारियां जुटा रही हैं. गिरफ्तार किए गए संदिग्धों की पहचान कठुआ मलार निवासी मुस्ताक अहमद और राजोरी निवासी नईम अख्तर के रूप में हुई है.

गिरफ्तार किए गए संदिग्धों के पास से सेना को भारत और जम्मू का नक्शा मिला है. भारत और जम्मू के इन नक्शों पर कई निशान लगाए गएं हैं. ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि ये लोग कोई बड़ी साजिश को अंजाम देने जा रहे थे.

झारखंड के सरायकेला में IED ब्लास्ट, कोबरा और पुलिस के 11 जवान घायल

संदिग्ध युवक पाकिस्तान में बैठे आतंकियों को व्हाट्सएप मैसेंजर के जरिए मिलिट्री स्टेशन की रेकी करा रहे थे. इन लोगों ने आतंकियों को मिलिट्री स्टेशन के आसपास और घुसपैठ करने के कई रास्तों का वीडियो भेजा है. जिस दौरान इन्हें गिरफ्तार किया गया. उस समय भी ये एक वीडियो भेज रहे थे.

First published: 29 May 2019, 9:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी