Home » इंडिया » Two Terrorist killed in Naugam Sector of Baramulla in Jammu Kashmir during infiltrating
 

जम्मू-कश्मीर: सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, नौगाम सेक्टर में घुसपैठ कर रहे दो आतंकी मार गिराए

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 July 2020, 10:12 IST

Two Terrorist killed in Naugam Sector by security forces: जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में सुरक्षाबलों (Security Forces) को आज बड़ी कामयाबी मिली. दरअसल, सुरक्षाबलों ने जम्मू-कश्मीर के नौगाम सेक्टर (Naugam Sector) में घुसपैठ (Infiltration) की कोशिश को नाकाम कर दिया. इस दौरान दो आतंकियों (Two Terrorist) को भी मार गिराया. ये आतंकवादी नौगाम सेक्टर में शनिवार को नियंत्रण रेखा (LoC) के पास भारतीय सीमा (Indian Territory) में घुसपैठ की कोशिश कर रहे थे. मारे गए आतंकवादियों के पास से हथियार और युद्ध में प्रयोग किया जाने वाला सामान बरामद हुआ है.

रक्षा प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि शनिवार सुबह, सैनिकों को उत्तर कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के नौगाम सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास संदिग्ध गतिविधियां नजर आई. उसके बाद भारतीय सैनिकों ने घात लगाकर हमला किया जिसमें दो आतंकवादियों को मार गिराया. उन्होंने बताया कि मौके से दो एके-47 राइफल और युद्ध में इस्तेमाल की जाने जैसी सामग्रियां जब्त की गई हैं. बता दें कि इनदिनों कश्मीर घाटी में भारतीय जवान आतंकियों का सफाया करने में लगे हैं. आए दिन एनकाउंटर में कोई न कोई आतंकी जरूरा मारा जा रहा है.


Corona Virus Update: दुनियाभर में मरने वालों का आंकड़ा 5.62 लाख के पार, भारत में आठ लाख से ज्यादा संक्रमित

जिससे बौखलाया पाकिस्तान लगातार भारत में आतंकियों की घुसपैठ की कोशिश कर रहा है. इंटेलिजेंस इनपुट के मुताबिक पीओके में लॉन्चिंग पैड्स पर बड़ी संख्या में आतंकवादी मौजूद हैं, जो भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश करने की फिराक में हैं. लेकिन सीमा पर मुस्तैद भारतीय सुरक्षाकर्मी उन्हें ढेर कर रहे हैं. इस साल अब तक सुरक्षाबलों ने तीन दर्जन से अधिक ऑपरेशनों में करीब 100 आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया है, जबकि इनके 126 से ज्यादा मददगार गिरफ्तार किए जा चुके हैं. वहीं पिछले साल यानी 2019 में 150 से अधिक और 2018 में 250 से अधिक आतंकियों को मारा गया था.

PM मोदी धमकी दे चुकी पाकिस्तानी सिंगर ने अपने देश के लिए कह दी बुरी बात, बोलीं- इंडियन ज्यादा अच्छे

मारे गए 92 आतंकियों में से केवल 35 हिजबुल के ही हैं. संगठन के ऑपरेशनल प्रमुख कमांडर रियाज नायकू समेत कई कमांडरों को भी मारा जा चुका है. बता दें कि 25 मई को ईद के बाद सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ अपने ऑपरेशंस में तेजी लाई है, उसके बाद आतंकी समूहों के शीर्ष नेतृत्व पर नजर रखी हुई है. कुलगाम में 25 मई को इस्लामिक स्टेट जम्मू-कश्मीर के कमांडर आदिल अहमद वानी और लश्कर-ए-तैयबा के शाहीन अहमद ठोकर को मारा जा चुका है. इसके बाद कुलगाम के वानपोरा इलाके में 30 मई को हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर परवेज अहमद और जैश-ए-मोहम्मद के टॉप कमांडर शाकिर अहमद को सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में ढेर कर दिया.

दिल्ली-यूपी समेत इन राज्यों में आज हो सकती है भारी बारिश, उत्तराखंड़ के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी

First published: 11 July 2020, 10:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी