Home » इंडिया » Uddhav Thackeray: If government will trouble Shiv Sena will get out of alliance
 

उद्धव ठाकरे: अगर शिवसेना को परेशान किया, तो फड़नवीस सरकार का छोड़ेंगे साथ

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 July 2016, 11:46 IST

अपने जन्मदिन से पहले शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरने महाराष्ट्र की बीजेपी सरकार को चेतावनी दी है. पार्टी के मुखपत्र सामना को दिए इंटरव्यू में उद्धव ने कहा कि अगर राज्य सरकार की वजह से पार्टी को परेशानी होती है, तो शि‍वसेना सरकार से बाहर हो जाएगी.

पार्टी के नेता और सामना के कार्यकारी संपादक संजय राउत को दिए इंटरव्यू में उद्धव ने यह भी दावा किया है कि उनकी पार्टी नगर निगम (बीएमसी) चुनाव अकेले दम पर ही जीतेगी.

बुधवार यानी 27 जुलाई को उद्धव ठाकरे का जन्मदिन है. मुखपत्र में इसी बाबत उनका इंटरव्यू किया गया है. मंगलवार को प्रकाशित इस इंटरव्यू की दूसरी किश्त में उद्धव ने 25 साल पुराने बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को तोड़ने की बात की है. जबकि सोमवार को इसकी पहली किश्त में उन्होंने कश्मीर के हालात को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा था.

'गठबंधन में सड़ गए हमारे 25 साल'

उद्धव ठाकरे ने हालांकि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस की प्रशंसा भी की है. उन्होंने कहा, "मुख्यमंत्री फड़नवीस अच्छा काम कर रहे हैं, लेकिन यदि सत्ता का इस्तेमाल कर शिवसेना को घेरा जाएगा, तो पार्टी सरकार से सीधे बाहर निकल जाएगी. शिवसेना की एकछत्र सत्ता कब की आ गई होती, लेकिन हमारे 25 साल युति (सहयोग) में सड़ गए."

पढ़ें: मंत्रिपरिषद विस्तार: अनदेखी पर बोली शिवसेना, खैरात नहीं मंजूर हमें

उद्धव ने आगे कहा, "मुख्यमंत्री नए हैं. वे पूरी कोशिश कर रहे हैं. अस्थिरता उनके हिस्से नहीं आई है, इसलिए मुझे पूरा विश्वास है कि वे अच्छा काम कर सकेंगे. जो अस्थिरता है वो बीजेपी के अंदर के लोग कर रहे हैं. मैं सरकार को अस्थिर करके कभी ब्लैकमेल नहीं करूंगा. मैं जो भी बोलूंगा खुलकर बोलूंगा."

'तो युति नहीं होगी'

क्या बीजेपी-शि‍वसेना के बीच भविष्य में भी गठजोड़ रहेगा? इस सवाल का जवाब देते हुए उद्धव ने कहा, "यह दोनों पार्टियों पर निर्भर रहेगा. यदि बीजेपी अपने दम पर लड़ने का नारा लगाएगी, तो शिवसेना भी चुप नहीं बैठेगी.

मैं भी शिवसेना का मुख्यमंत्री लाऊंगा. ये तो मेरा प्रण है और यही मेरी प्रमुखता है. यदि यह सब युति से संभव नहीं हुआ तो युति नहीं होगी."

पढ़ें: मोदी सरकार पर उद्धव: अहंकारी मत बनो, हिटलर ने भी की थी खुदकुशी

उद्धव ने इंटरव्यू के दौरान आगे कहा, "शिवसेना यदि अकेले अपने बलबूते पर लड़ती रही होती, तो आज की तस्वीर अलग होती.

व्यक्ति‍गत तौर पर मेरा मुख्यमंत्री से कोई झगड़ा नहीं है. हमारी 25 साल की युति‍ हिंदुत्व पर आधारित थी, अब किस पर है यह तय करना होगा. शिवसेना ने कभी बेवजह कोई आरोप नहीं लगाए. जो बातें जनता के हित में होती हैं, उन्हीं का समर्थन शिवसेना ने किया है."

First published: 26 July 2016, 11:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी