Home » इंडिया » UIDAI helpline number in android phone google admits his fault
 

UIDAI नंबर को लेकर Google ने मानी गलती, लोगों के फोन में नंबर सेव होने से मचा था हड़कंप

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 August 2018, 9:25 IST

लोगों के मोबाइल फोन में अपने आप यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) के नाम से हेल्पलाइन नंबर सेव होने का मामला सामने आने के बाद हड़कंप मच गया था. इसको लेकर कई लोगों ने शिकायत दर्ज कराई थी. सोशल मीडिया पर इसको लेकर हंगामा मचा हुआ है. तमाम पड़ताल के बाद भी यह सामने नहीं आ पाया था कि फोन में UIDAI का पुराना हेल्पलाइन नंबर 1800-300-1947 कौन सेव कर दे रहा है?

 पढ़ें- UIDAI ने कहा- हमने किसी टेलिकॉम कंपनी के लिए जारी नहीं किया अपना ईहेल्पलाइन नंबर

अब इसे लेकर Google ने अपनी गलती मानी है. सामने आया है कि गूगल ने एंड्रायड फोन में UIDAI का पुराना हेल्पलाइन नंबर 1800-300-1947 सेव किया था. गूगल ने खुद अपनी गलती मान ली है और कहा है कि इसे सुधार लिया जाएगा. गूगल ने कहा है कि 2014 में ही एंड्रायड फोन के ‘सेटअप विजार्ड’ में यूआईडीएआई हेल्पलाइन नंबर और 112 हेल्पलाइन नंबर ‘गलती से’ डाला गया था जो तब से चला आ रहा है. हालांकि, गूगल ने ये भी कहा है कि ये एंड्रायड फोन में बिना इजाजत एक्सेस का मामला नहीं है.

पढ़ें- अब इस नम्बर पर कॉल करके आसानी से अपने मोबाइल नंबर को आधार से लिंक कीजिये

बता दें कि बवाल मचने के बाद UIDAI ने अपना बयान जारी कर कहा था कि उसने किसी भी टेलिकॉम कंपनी को अपना हेल्पलाइन नंबर यूजर्स के कॉन्टैक्ट लिस्ट में फीड करने को नहीं कहा है.

UIDAI ने ट्वीट कर बताया था कि यूजर्स के फोन में जो नंबर सेव हुआ है वह 1800-300-1947 है. यह हेल्पलाइन नंबर पुराना है और इनवैलिड भी है. UIDAI की तरफ से कहा गया है कि ऐसा कर लोगों के मन में भ्रम फैलाने की कोशिश की जा रही है. जो नंबर सेव होने की शिकायत मिल रही है. वो दो साल से इनवैलिड है. UIDAI का नया टोल फ्री नंबर 1947 है.

First published: 4 August 2018, 9:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी