Home » इंडिया » un will be celebrated the 125th anniversary of babasaheb ambedkar
 

यूएन में मनायी जाएगी बाबासाहब अंबेडकर की 125वीं जयंती

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 April 2016, 18:45 IST

भारतीय संविधान के जनक और भारत रत्न बाबासाहब डाक्टर भीमराव अंबेडकर की 125वीं जयंती पहली बार संयुक्त राष्ट्र संघ (यूएन) में मनायी जाएगी.

यूएन में बाबासाहब की जयंती को सतत विकास लक्ष्य (एसडीजी) हासिल करने के लिए असमानताओं से लड़ने पर ध्यान देने के लिए मनाया जाएगा.

यूएन में भारत का स्थायी मिशन कल्पना सरोज फाउंडेशन और फाउंडेशन फार ह्यूमन होराइज़न के आपसी सहयोग से बाबासाहब की जयंती से एक दिन पहले 13 अप्रैल को यूएन मुख्यालय में उनकी जयंती मनाएगा.

इस अवसर पर मुख्यालय में ‘इन सतत विकास लक्ष्यों को हासिल करने के लिए असमानताओं से लड़ाई’ के विषय पर एक परिचर्चा का भी आयोजन किया जाएगा.

इस संबंध में यूएन में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरूद्दीन ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि, ‘संयुक्त राष्ट्र में पहली बार बाबासाहब अंबेडकर की जयंती मनाई जाएगी, जिसमें सतत विकास लक्ष्यों को हासिल करने के लिए असमानताओं से लड़ने पर ध्यान दिया जाएगा.’

Ambedkar

इस मामले में भारतीय मिशन के एक पत्र में कहा गया कि भारत अपने ‘राष्ट्रीय प्रेरणास्रोत’ की 125वीं जयंती मना रहा है जो करोड़ों भारतीयों और दुनिया भर में समानता और सामाजिक न्याय के समर्थकों के लिए प्रेरणास्रोत बने हुए हैं.

बाबासाहब भीमराव अंबेडकर का जन्म 14 अप्रैल, 1891 को हुआ था और उनका निधन 6 दिसंबर 1956 में हुआ था.

First published: 9 April 2016, 18:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी