Home » इंडिया » UNGA 73 session: Sushma swaraj says pakistan supports terrorism and told the real reason behind cancelling the meeting
 

संयुक्त राष्ट्र के मंच से सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान को लगाई फटकार, बताई वार्ता रद्द करने की असली वजह

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 September 2018, 8:04 IST
(File Photo)

पाकिस्तान के आतंकवाद को लेकर दोहरे मापदंडों से इस समय अंतर्राष्ट्रीय राजनीति में हलचल मची है. एक तरफ शांति वार्ता का प्रस्ताव और दूसरी तरफ सेना की नापाक हरकत ने पाकिस्तान के इरादों पर सवालिया निशान लगा दिया है. पाकिस्तान की हरकतों की वजह से ही विदेश मंत्री स्तर की वार्ता को रद्द कर दिया गया. उधर सर्जिकल स्ट्राइक दिवस के मौके पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी पाकिस्तान के खिलाफ ''ठीक-ठाक'' एक्शन लिए जाने की बात कही. वहीं बीएसएफ प्रमुख ने भी इस मौके पर भारत एक BSF के जवान के साथ पाकिस्तानी सेना की बर्बरता का बदला लेने की बात की पुष्टि करते हुए कहा कि ठीक एक्शन लिया गया है और आगे भी ऐसा होता रहेगा.

संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के 73वें सत्र (73rd Session) को संबोधित करते हुए भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान को जमकर लताड़ा. अंतरार्ष्ट्रीय मंच से स्वराज ने पाकिस्तान को आतंकवाद को पनाह देने वाला मुल्क बताया. विदेश मंत्री ने बीते दिनों पाकिस्तान की तरफ से हुई नापाक हरकतों का जिक्र करते हुए विदेश मंत्री स्तर की वार्ता रद्द करने की असली वजह भी दुनिया को बताई.


विदेश मंत्री ने कहा कि दुनिया के सामने पाकिस्तान का आतंकी चेहरा आ चुका है. इसी वजह से Financial Action Task Force (FATF) ने पकिस्तान पर निगरानी शुरू कर दी है क्योंकि पाकिस्तान पर आतंकवादियों को आर्थिक सहायता देने केआरोप साफ़ हैं.

इसी के साथ वार्ता रद्द करने को लेकर सुषमा ने कहा कि हम पाकिस्तान के साथ बातचीत करने के लिए तैयार है, लेकिन आतंकवाद और वार्ता एक साथ नहीं चल सकते हैं. भारत ने भी पाकिस्तान के साथ वार्ता शुरू करनी चाही है लेकिन हर बार ही पाकिस्तान की हरकतों की वजह से वार्ता नहीं हो पाई है.

सेना ने दोबारा पाकिस्तान पर की सर्जिकल स्ट्राइक ! राजनाथ सिंह ने कहा- विश्वास रखना, कुछ हुआ है...

भारत का अमन की ओर कदम बढ़ाने की मंशा को लेकर सुषमा ने कहा, ''पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर दोनों देशों के विदेश मंत्रियों की न्यूयॉर्क में मुलाकात की इच्छा जताई, जिसको भारत ने स्वीकार भी कर लिया था, लेकिन चंद घंटों में ही पाकिस्तान ने अपना रंग दिखा दिया और जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवानों का अपहरण करके उनकी हत्या कर दी गई.'' पाकिस्तान को आतंकवाद के मुद्दे पर करारा जवाब देते हुए विदेश मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान सिर्फ आतंकवाद फैलाने में ही माहिर नहीं है, बल्कि अपने किए हुए को नकारने में भी उसने महारथ हासिल कर ली है.

First published: 30 September 2018, 8:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी