Home » इंडिया » Union Budget 2020: Modi Government May cut Income Tax Slabs in Budget 2020
 

Budget 2020 : इनकम टैक्स देने वालों को सरकार दे सकती है बड़ा तोहफा, स्लैब में कर सकती है बदलाव!

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 January 2020, 17:03 IST
(File Photo)

Union Budget 2020: 31 जनवरी को सुबह राष्ट्रपति (President) के अभिभाषण के बाद इस साल का बजट सत्र (Budget Session) शुरु होगा. हर साल की तरह इस साल भी एक फरवरी (1st February) को बजट पेश किया जाएगा. वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) इस बार बजट पेश करते हुए हर वर्ग के लोगों को कोई न कोई तोहफा दे सकती हैं. जिसमें इनकम टैक्स स्लैब में बदलाव भी शामिल है. ऐसा माना जा रहा है कि 20 साल रुपये तक की सालाना आमदनी वाले लोगों को इस बजट में बड़ी राहत मिल सकती है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 1 फरवरी को पेश होने वाले बजट में वित्तमंत्री इनकम टैक्स (Income Tax Slab Changes) में बड़े बदलाव की तैयारी में है. ऐसा इसलिए माना जा रहा है कि वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बीते दिनों में कई बार इनकम टैक्स रेट में कटौती के संकेत दिए हैं. टैक्स रेट के बारे में सवाल पूछे जाने पर वित्तमंत्री ने कहा था कि इनकम टैक्स रेट को ज्यादा तर्कसंगत बनाने समेत अन्य उपायों पर विचार किया जा रहा है.

सूत्रों की मानें तो सालाना 7 लाख रुपये तक की इनकम पर 5 फीसदी टैक्स का प्रस्ताव रखा गया है. जो मौजूदा वक्त में सालाना 5 लाख रुपये तक की कमाई पर 5 फीसदी टैक्स है. वहीं, 7 से 10 या 12 लाख रुपये तक की सालाना इनकम पर 10 फीसदी टैक्स का प्रस्ताव है. मौजूदा वक्त में 5 से 10 लाख रुपये तक की कमाई पर 20 फीसदी टैक्स लगता है. वहीं 10 से 20 लाख रुपये तक की कमाई पर 20 फीसदी टैक्स का प्रस्ताव इस बजट में रखा गया है. मौजूदा समय में 10 लाख रुपये से ज्यादा की इनकम पर 30 फीसदी टैक्स देना होता है. लेकिन इस साल के बजट में 20 लाख से 10 करोड़ रुपये तक की कमाई पर 30 फीसदी टैक्स का प्रस्ताव रखा गया है.

इसके अलावा 10 करोड़ रुपये से ज्यादा की कमाई पर 35 फीसदी टैक्स का प्रस्ताव है. बता दें कि मौजूदा टैक्स स्लैब (Tax Slab) के मुताबिक, अगर किसी भी व्यक्ति की सालाना आय 2.5 लाख रुपये से अधिक है तो वो टैक्स (Income Tax) के दायरे में आता हैं. अगर कोई व्यक्ति नौकरीपेशा है तो उनके वेतन से ही ये टैक्स काट लिया जाता है. यही नहीं इसके अलावा भी कई अन्य स्त्रोतों से होने वाली कमाई भी आयकर के दायरे में आती है.

PF के नियमों में होने जा रहा है ये बड़ा बदलाव, ऐसे कर्मचारियों को होगा फायदा

आ गई है टाटा की प्रीमियम हैचबैक Altroz, Maruti सुज़ुकी Suzuki को देगी टक्कर

शराब की बोतलों पर होगा 'बार'कोड, योगी सरकार की नई पॉलिसी में इनको मिलेंगे लाइसेंस

First published: 22 January 2020, 17:03 IST
 
अगली कहानी