Home » इंडिया » Union home minister Amit Shah high level meeting on Kashmir issue with NSA Ajit Doval and home secretary
 

कश्मीर को लेकर गृह मंत्री शाह की अहम बैठक, गृह सचिव और NSA डोभाल भी रहे मौजूद

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 August 2019, 15:12 IST

जम्मू-कश्मीर में अतिरिक्त जवानों की तैनाती और अमरनाथ यात्रा के साथ सभी पर्यटकों को घाटी से बाहर निकालने के गृह मंत्रालय के फैसले के बाद चारों और चर्चाओं का दौर जारी है, कि जम्मू-कश्मीर की कहीं कुछ बड़ा तो नहीं होने जा रहा. आम आदमी से साथ राजनैतिक दलों में भी इस बात की खासी चर्चा हो रही है कि अचानक से जम्मू-कश्मीर में अतिरिक्त 10,000 सैनिकों की तैनाती क्यों की गई.

साथ ही उसके बाद 14 दिन पहले ही अमरनाथ यात्रा को रोक दिया गया, इसका मतलब क्या हो सकता है. इन्हीं सब अफवाहों और सवालों के बीच रविवार को गृह मंत्री अमित शाह ने केंद्रीय गृह सचिव और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के साथ बैठक की. जिसमें जम्मू-कश्मीर को लेकर बातचीत होने की खबर सामने आई है.

ये बैठक संसद भवन ऑफिस में हुई. गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और गृह सचिव राजीव गाबा भी मौजूद रहे. इसके बाद अब सोमवार को दिल्ली में पीएम आवास पर सुबह 9.30 बजे कैबिनेट की बैठक होगी. सूत्रों के हवाले से खबर है कि केंद्र सरकार कैबिनेट की इस बैठक में बड़ा फैसला ले सकती है. मोदी सरकार ने कैबिनेट की बैठक ऐसे वक्त में बुलाई है जब जम्मू-कश्मीर में अलर्ट को लेकर देश भर में सरगर्मी तेज हैं.

बता दें कि इनदिनों कश्मीर में हालात तनावग्रस्त हैं. सुरक्षा बलों को अमरनाथ यात्रा के रूट पर सर्च ऑपरेशन के दौरान स्नाइपर राइफल मिली, जिसके बाद यात्रा रोकने का फैसला किया गया. अरनाथ यात्रा के दौरान किसी आतंकी खतरे को देखते हुए तुरंत ये एडवाइजरी की गई थी कि अमरनाथ यात्री अमरनाथ यात्रा मार्ग में जहां कहीं भी हैं वो अपने-अपने घरों की तरफ लौटने की कोशिश करें, क्योंकि उनपर हमले की बड़ी साजिश रची जा रही है.

वहीं दूसरी ओर, जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना ने शनिवार को पाकिस्तानी बैट की केरन सेक्टर में घुसपैठ की कोशिशों को नाकाम कर दिया. भारतीय सेना के मुताबिक 5 से 7 पाकिस्तानी सेना के बैट कमांडो और आतंकवादियों को मार दिया गया है. उनके शव एलओसी पर पड़े हैं. जिन्हें ले जाने के लिए भारतीय सेना ने पाकिस्तान के सामने पेशकश की है कि वह सफेद झंडे का साथ आकर अपने सैनिकों के शवों को ले जा सकता है.

चेतन भगत ने शेयर की अपनी दसवीं की मार्कशीट, बताया कागज का टुकड़ा, जानिए क्यों?

First published: 4 August 2019, 15:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी