Home » इंडिया » union minister ashwini kumar choubey misbehaves with an officer in buxar after stopped his convoy
 

VIDEO: आचार संहिता उल्लंघन की बात पर भड़के बीजेपी नेता ने SDM के साथ की बदसलूकी, कहा- हिम्मत है तो जेल...

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 March 2019, 10:10 IST

चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद से पूरे देश में आचार संहिता लागू कर दिया गया है. चुनाव आयोग आचार संहिता को लेकर बेहद सख्त है, लेकिन कुछ नेता इसका उल्लंघन करना नहीं छोड़ते.

बिहार के बक्सर में केंद्रीय मंत्री और बक्सर से बीजेपी के उम्मीदवार अश्विनी चौबे ना सिर्फ आचार संहिता का उल्लंघन किया, बल्कि एक अधिकारी के साथ अभद्रता की और उन्हें धमकाया भी. बताया जा रहा है कि बिहार के बक्सर में एक चुनावी सम्मेलन चल रहा था. इसी दौरान अश्विनी चौबे के काफिले में गाड़ियों की संख्या आचार संहिता का उल्लंघन कर रही थी.

दरसअल, बीजेपी नेता अश्विनी को दोबारा टिकट मिलने के बाद वे अपने संसदीय क्षेत्र बक्सर पहुंचे थे. उनके काफिले में गाड़ियों की संख्या अधिक थी, जिले लेकर SDM केके उपाध्याय ने उन्हें टोका. इस पर चौबे एसडीएम पर भड़क गए.

अमित शाह की पत्नी की आय 5 साल में बढ़ी 16 गुना, इतने करोड़ की हैं मालकिन

दरसअल, बीजेपी नेता अश्विनी को दोबारा टिकट मिलने के बाद वे अपने संसदीय क्षेत्र बक्सर पहुंचे थे. उनके काफिले में गाड़ियों की संख्या अधिक थी, जिले लेकर SDM केके उपाध्याय ने उन्हें टोका. इस पर चौबे एसडीएम पर भड़क गए. इतनी सी बात पर वे एसडीएम के साथ बदसलूकी करने लगे. इतना ही नहीं, उन्होंने एसडीएम को चिल्लाते हुए कहा कि कि हिम्मत तो ले चलो जेल. किसके आदेश से मेरी गाड़ी रोके हो?

बीजेपी नेता एसडीएम पर इतना ज्यादा भड़क गए कि उन्होंने अधिकारी को जेल में डालने की चुनौती दे दी. उन्होंने अधिकारी से कहा कि किसका आदेश है. इस बात का जवाब अधिकारी ने काफी विनम्रता से कहा कि चुनाव आयोग का. अश्विनी चौबे सिर्फ इस बात पर ही नहीं रुके और वह अपनी गाड़ी का दरवाजा खोल उस पर खड़े होकर कहने लगे- "ये गाड़ी मेरी है...हिम्मत है तो जेल भेजो, चलो जेल भेजो.. तमाशा करते हैं आपलोग.."

मैं भी चौकीदार' कार्यक्रम के तहत आज पेशेवरों से बात करेंगे पीएम मोदी

First published: 31 March 2019, 10:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी