Home » इंडिया » Union minister Maneka Gandhi demands expulsion of BJP MLA over horse beating
 

मेनका गांधी: घोड़े की टांग तोड़ने वाले विधायक को बर्खास्त किया जाय

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 March 2016, 17:24 IST

केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने देहरादून में पुलिस के अश्व दस्ते में शामिल घोड़े के बर्बर पिटाई के आरोपी मसूरी के भाजपा विधायक गणेश जोशी को पार्टी से बर्खास्त करने की मांग की है. 

मेनका गांधी जानवरों के अधिकारों के लिए काम करने वाली संस्था द प्यूपिल फॉर एनिमल्स (पीएफए) की अध्यक्ष हैं और जानवरों से जुड़े मुद्दे को हमेशा उठाती रहती हैं. 

संस्था द प्यूपिल फॉर एनिमल्स (पीएफए) ने अश्व दस्ते के घोड़े के पिटाई के मामले में विधायक के खिलाफ देहरादून पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई है. इसके साथ ही संस्था ने राज्य के डीजीपी को भी पत्र लिखकर आरोपी विधायक गणेश जोशी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है.

पीएफए की ट्रस्टी गौरी मौलेखी ने पुलिस प्रमुख को लिखे पत्र में कहा कि यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण और गंभीर घटना है. ये एक तरह का क्रिमिनल एक्ट है, जिसे खुलेआम और बेहद बेदर्दी से किया गया है.

जानवरों के हित के लिए काम करने वाली एक और संस्था पेटा ने भी इस घटना को गंभीरता से लिया है. संस्था की ओर से उत्तराखंड के विधानसभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को पत्र लिखकर आरोपी विधायक गणेश जोशी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

पेटा की ओर से घटना को आपराधिक दुराचरण की श्रेणी में रखते हुए विधायक पर सख्त कार्रवाई की मांग की गई.

पढ़ें: बीजेपी के विधायक ने लाठियों से पीट कर घोड़े का पैर तोड़ा

घोड़े पर हमले के आरोपी विधायक गणेश जोशी ने अपने बचाव में कहा है कि अगर मुझ पर लगे आरोप साबित हो गए, तो मेरे पैर काट दिए जाए. मैं सजा के लिए तैयार हूं. आरोपी विधायक का यह बयान तब आया है जब पुलिस ने उनके खिलाफ प्रिवेंशन ऑफ एनिमल क्रूअल्टी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है.

First published: 16 March 2016, 17:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी