Home » इंडिया » United Nations Security Council close door meeting for Article 370 in Jammu And Kashmir by China
 

कश्मीर को लेकर चीन ने चला पैंतरा, आज बंद दरवाजे में होगी UNSC की बैठक, भारत नहीं ले पाएगा हिस्सा

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 August 2019, 10:10 IST

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने को लेकर चीन ने अपने दोस्त पाकिस्तान के लिए नया पैंतरा चला है. इसी मुद्दे पर आज चीन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को बैठक करने के लिए राजी कर लिया है. ओछी बात यह है कि चीन ने यह मीटिंग बंद दरवाजे में बुलावाई है. इसमें सिर्फ संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के 15 देश ही हिस्सा ले सकते हैं. भारत इस बैठक में हिस्सा नहीं ले पाएगा.

बता दें कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान को मुस्लिम राष्ट्रों समेत पूरी दुनिया से भाव नहीं मिला. हालांकि चीन जरूर भारत के खिलाफ पाकिस्तान के साथ खड़ा हो गया है. इसीलिए चीन ने अनुच्छेद 370 पर चर्चा के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की क्लोज डोर मीटिंग बुलाई है.

चीन ने इस मुद्दे पर सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष जोआना रेकोनाका को पत्र लिखकर मांग की थी. जिसे लेकर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद तैयार हो गया है. यह मीटिंग न्यूयॉर्क स्थित सुरक्षा परिषद के मुख्यालय में होगी. मीटिंग भारतीय समयानुसार आज शाम 7:30 बजे होगी. 

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के 'प्रोविजनल रूल्स ऑफ प्रोसीजर' के नियम 55 के अनुसार, बंद दरवाजे में प्राइवेट मीटिंग का प्रावधान है. मीटिंग पूरी तरह गोपनीय होती है, इस मीटिंग में सिर्फ सुरक्षा परिषद के 15 सदस्य ही हिस्सा लेते हैं. मीटिंग में वह देश भी हिस्सा नहीं ले पाते, जिनसे संबंधित मुद्दा होता है.

बंद दरवाजे में होने वाली मीटिंग का कोई रिकॉर्ड तक नहीं रखा जाता है. मीटिंग की वीडियो रिकॉर्डिंग भी नहीं होती है. इस कारण मीटिंग में होने वाली चर्चा सार्वजनिक नहीं हो पाती और पता नहीं चल पाता कि बैठक में जिस मुद्दे पर चर्चा हुई उस पर किस देश ने किसके पक्ष में बयान दिया है.

गौरतलब है कि हाल ही में भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने चीन की यात्रा के दौरान चीनी विदेश मंत्री वाग ली के साथ द्विपक्षीय वार्ता की थीउन्होंने जम्मू-कश्मीर को लेकर स्थिति साफ की थी और कहा था कि भारत ने जो फैसला लिया है वह उसका आंतरिक मामला है. तब चीन ने भी ऐसी ही हामी भरी थी. बाद में चीन पलट गया और एक बार फिर पाकिस्तान का साथ देने जा रहा है.

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की पहली पुण्यतिथि, PM मोदी समेत देशवासियों ने दी श्रद्धांजलि

अटल सरकार में हुई थी 'चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ' की मांग, अब PM मोदी ने किया ऐलान

First published: 16 August 2019, 10:10 IST
 
अगली कहानी