Home » इंडिया » Unlock 4: Delhi Metro Service resumes from 7th September, Know here New Guidelines of Home Ministry
 

Unlock 4: 7 सितंबर से चलेगी दिल्ली मेट्रो, गृह मंत्रालय ने जारी की नई गाइडलाइंस, ये हैं नए नियम

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 August 2020, 8:57 IST

Unlock 4 Guidelines: केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अनलॉक-4 की गाइडलाइन्स जारी कर दी है. अनलॉक-4 में दिल्ली मेट्रो के संचालन को अनुमति दे दी गई है. दिल्ली मेट्रो का संचालन 169 दिनों के लंबे अंतराल के बाद 7 सितंबर से शुरु होगा. मेट्रो के संचालन के लिए भी गृह मंत्रालय ने नए नियम कानून बनाए हैं. नए निर्देशों के मुताबिक, मेट्रो का परिचालन चरणबद्ध तरीके से यानी सीमित यात्रियों के साथ किया जाएगा. उसकी सफलता के बाद आगे धीरे-धीरे यात्रियों की संख्या बढ़ाई जाएगी. जल्द ही केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय की ओर से विस्तार में एसओपी (मानक संचालन प्रक्रिया) जारी की जाएगी.

बता दें कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए 22 मार्च को किए गए जनता कर्फ्यू और उसके बाद लॉकडाउन के बाद से मेट्रो बंद पड़ी है. अब एक बार फिर से सात सितंबर से दिल्ली मेट्रो का संचालन शुरु होगा. इसके साथ ही मेट्रो परिचालन कई बड़े बदलावों के साथ अपना परिचालन शुरू करेगी. जिसमें मेट्रो कोच में यात्रियों की संख्या सीमित रखने जैसे कई नए नियम बनाए गए हैं. साथ ही मेट्रो कोच के अंदर यात्रियों के बीच 6 फीट की दूरी रखनी होगी. हर व्यक्ति की थर्मल स्क्रीनिंग के बाद प्रवेश मिलेगा. अगर कोई संदिग्ध है तो उसे वापस लौटा दिया जाएगा.


कोरोना से बचने के लिए गले में लॉकेट लटकाते थे BJP अध्यक्ष, लेकिन हो गए कोविड-19 पॉजिटिव

केन्द्रीय गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) की ओर से शनिवार को जारी की गई अनलॉक-4 (Unlock-4) की गाइडलाइन्स के मुताबिक, नये दिशा-निर्देश 1 सितंबर से लेकर 30 सितंबर तक लागू रहेंगे. इनके तहत केंद्र सरकार (Central Government) ने कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के मद्देनजर कंटेनमेंट जोन (Containment Zone) के बाहर और भी गतिविधियों (activities) की अनुमति दे दी है. अनलॉक के नए नियमों में गृह मंत्रालय ने एक महत्वपूर्ण निर्देश दिया है जिसमें कहा गया है कि राज्य सरकारें केंद्र से परामर्श किए बगैर कंटेनमेंट क्षेत्रों के बाहर कोई स्थानीय लॉकडाउन लागू नहीं करेंगी.

अमित शाह के स्वास्थ्य को लेकर AIIMS ने दी बड़ी खबर, 18 अगस्त को अस्पताल में हुए थे भर्ती

जबकि 21 सितंबर से 100 व्यक्तियों की अधिकतम सीमा के साथ सामाजिक, राजनीतिक और धार्मिक कार्यक्रमों की अनुमति होगी. फिलहाल स्कूल-कॉलेजों को बंद रखने के निर्देश ही दिए गए हैं. मंत्रालय ने कहा कि राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में 50 प्रतिशत तक शिक्षण, गैर-शिक्षण कर्मचारियों को ऑनलाइन शिक्षण, टेली-काउंसलिंग से संबंधित कार्य के लिए स्कूलों में बुलाया जा सकता है. वहीं निरुद्ध क्षेत्र के बाहर स्थित स्कूलों में नौवीं कक्षा से 12वीं कक्षा तक के छात्रों को अपने शिक्षकों से मार्गदर्शन लेने के लिए स्वैच्छिक आधार पर स्कूल जाने की अनुमति दी जा सकती है.

कोरोना संकट के बीच ममता सरकार ने रेलवे बोर्ड को लिखा पत्र, मेट्रो सेवा शुरू करने की कही बात

निर्देशानुसार ऐसा उनके अभिभावकों की लिखित सहमति से किया जा सकेगा. वहीं ओपेन एयर थियटरों को 21 सितंबर से खोले जाने की अनुमति दे दी गई है. हालांकि सिनेमा हॉल अभी भी बंद ही रहेंगे. कंटेनमेंट जोन घोषित किये गये इलाकों में 30 सितंबर तक कड़ा लॉकडाउन जारी रहेगा. स्कूल, कॉलेज एवं अन्य शैक्षणिक संस्थान 30 सितंबर तक बंद रहेंगे. इसके अलावा राज्यों के अंदर और एक राज्य से दूसरे राज्य के लिए होने वाले यातायात पर भी कोई रोक नहीं होगी.

जम्मू-कश्मीरः श्रीनगर एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को किया ढेर, एक पुलिसकर्मी शहीद

सिनेमा हॉल, स्विमिंग पूल, मनोरंजन पार्क और थिएटर बंद रहेंगे. इन्हें छोड़ बाकी सभी गतिविधियों की छूट होगी. अंतरराष्ट्रीय यात्रा पर 30 सितंबर तक रोक जारी रहेगी. जो लोग अधिक खतरे की स्थिति में हैं, इनमें 65 साल से अधिक उम्र के लोग, कई बीमारियों से पीड़ित लोग, गर्भवती महिलाएं और 10 साल से कम उम्र के बच्चों को घर पर ही रहने की सलाह दी गई है, जब तक कि उन्हें स्वास्थ्य कारणों से या आवश्यक सुविधाओं के प्रबंध के लिए बाहर न जाना हो.

Mann Ki Baat: पीएम मोदी आज सुबह 11 बजे 'मन की बात' कार्यक्रम के जरिए 68वीं बार करेंगे देश को संबोधित

First published: 30 August 2020, 8:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी