Home » इंडिया » Unnao gang rape victim death, father said convicts get punished like Hyderabad encounter
 

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की मौत, पिता बोले- हैदराबाद एनकाउंटर की तरह दरिंदों को मिले सजा

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 December 2019, 11:05 IST

Unnao Gangrape: दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल(Safdarjang Hospital) में पिछले तीन दिनों से जिंदगी और मौत की जंग से जूझ रही उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता(Unnao Rape) की मौत हो गई है. इसके बाद अपनी बेटी की मौत से दु:खी पिता ने दरिंदोंं को हैदराबाद एनकाउंटर(Hyderabad Encounter) की तरह सजा देने की मांग की है.

पीड़िता के पिता ने कहा कि मुझे किसी धन की लालच नहीं. सिर्फ मेरी एक ही मांग है कि बेटी को मौत के बाद इंसाफ मिले. पीड़िता के पिता ने सरकार से हैदराबाद एनकाउंटर की तरह दरिंदों का एनकाउंटर या तो फांसी की सजा की मांग की. उन्होंने बताया कि सफदरजंग अस्पताल में आज उनकी बेटी का पोस्टमार्टम होगा. फिर वह शव लेकर उन्नाव जाएंगे.

दरअसल, शुक्रवार रात 11.40 पर सफदरजंग अस्पताल में पीड़िता की मौत हो गई. अस्पताल के बर्न और प्लास्टिक सर्जरी विभाग के एचओडी डॉक्टर ने पीड़िता के निधन की पुष्टि की. उन्होंने बताया कि रात करीब 11.10 पर पीड़िता के हृदय ने काम करना बंद कर दिया था. इसके बाद डॉक्टरों की तमाम कोशिशों के बावजूद पीड़िता की हालत में सुधार नहीं हुआ और रात 11.40 पर उसकी मृत्यु हो गई.

90 प्रतिशत से भी ज्यादा जली पीड़िता ने आखिरी वक्त तक हार नहीं मानी थी. जब तक वह होश में थी कहती रही कि मुझे जलाने वालों को छोड़ना मत. उन्नाव जिले के बिहार थाना क्षेत्र में दुष्कर्म पीड़िता को गुरुवार की सुबह जलाने का प्रयास किया गया था.

पीड़िता रायबरेली जाने के लिए सुबह रेलवे स्टेशन जा रही थी. इस दौरान गांव के बाहर कुछ लोगों ने उसे जिंदा जलाने का प्रयास किया और मौके से भाग निकले. पीड़िता को बाद में सुमेरपुर सीएचसी पहुंचाया जहां से जिला अस्पताल लाया गया. हालत नाजुक होने के कारण उसे लखनऊ के सिविल हॉस्पिटल रेफर किया गया. हालांक उसकी हालत गंभीर बनी हुई थी. इसके बाद पीड़िता को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल शिफ्ट किया गया. पुलिस ने मामले में पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

हैदराबाद गैंगरेप आरोपियों के एनकाउंटर पर बोलीं जया बच्चन- देर आए दुरुस्त आए

हैदराबाद गैंगरेप: चारों आरोपियों का एनकाउंटर करने वाले पुलिसकर्मियों पर लोगों ने बरसाए फूल

First published: 7 December 2019, 10:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी