Home » इंडिया » Unnao Gangrape: A women molested, police said come when you are raped
 

उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता के गांव की एक महिला के साथ हुई छेड़खानी, पुलिस ने कहा- रेप हो तब आना

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 December 2019, 15:53 IST

Unnao Gangrape: उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता को दरिंदों ने जिंदा जलाने की कोशिश की थी. इसके बाद पीड़िता की दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल(Safdarjung Hospital) में मौत हो गई थी. इसके बाद पूरे देश में रोष व्याप्त है. दूसरी तरफ उन्नाव की पुलिस(Unnao Police) महिलाओं को लेकर अभी भी अपने निर्दयी रवैये पर कायम है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जिस हिंदूपुर गांव में उन्नाव पीड़िता को जलाया गया. वहां एक अन्य महिला के साथ कुछ लोगों ने छेड़खानी की. इसके बाद महिला जब उन्नाव पुलिस के पास शिकायत दर्ज करवाने गई तो पुलिस ने दुष्कर्म के प्रयास की उसकी शिकायत दर्ज करने से मना कर दिया. महिला ने आरोप लगाया कि पुलिस ने कहा कि जब तुम्हारे साथ दुष्कर्म हो जाए तब आना.

महिला ने आरोप लगाया कि पुलिस ने उससे कहा कि जब दुष्कर्म हो तब आना, इसके बाद शिकायत दर्ज होगी. महिला ने कहा कि पुलिस ने उनसे कहा कि तुम्हारा रेप तो हुआ नहीं, इसलिए जब रेप होगा तब शिकायत करने आना. महिला के अनुसार, कुछ महीने पहले गांव के ही तीन लोगों ने उसके साथ छेड़खानी की और रेप करने का प्रयास किया था.

महिला ने बताया कि वह दवा लेने जा रही थीं. इस दौरान तीन लोगों ने उन्हें रोका और उनके कपड़े खींचने लगे. तीनों ने उनके साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया. यही नहीं महिला ने आरोपियों की पहचान भी की. लेकिन जब वह थाने शिकायत दर्ज कराने पहुंचीं तो पुलिस ने उसे भगा दिया. पुलिस ने दुष्कर्म होने के बाद आने को कहा.

महिला के अनुसार, वह पिछले तीन महीने से थाने के चक्कर लगा रही हैं, लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हो रही है. उन्होंने बताया कि इस घटना के बाद उन्होंने महिला हेल्प लाइन नंबर 1090 पर फोन किया तो वहां से 100 नंबर डायल करने के लिए कहा गया, हालांकि फिर उन्हें उन्नाव पुलिस में शिकायत करने के लिए कहा गया. इस दौरान आरोपी उसे जान से मारने की धमकी दे रहे हैं.

उन्नाव रेप: जिंदगी की जंग हार गई बहादुर बेटी, दरिंदों ने जिंदा जलाने का किया था प्रयास

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की मौत, पिता बोले- हैदराबाद एनकाउंटर की तरह दरिंदों को मिले सजा

First published: 8 December 2019, 15:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी