Home » इंडिया » Unnao rape case: CBI probes complete in 7 days, victim's treatment will be available in Delhi AIIMS -SC
 

उन्नाव रेप केस: 7 दिन में CBI जांच करे पूरी, संभव हो तो पीड़िता का इलाज दिल्ली AIIMS में हो -SC

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 August 2019, 13:30 IST

सुप्रीम कोर्ट की सीजेआई वाली बेंच ने गुरुवार को उन्नाव रेप केस से जुड़े मामले की सुनवाई की. अदालत ने इस घटना से जुड़े सभी मामलों को लखनऊ से दिल्ली ट्रांसफर कर दिया हैं. अदालत ने सीबीआइ को इस मामले की जांच सात दिन के भीतर पूरी करने को कहा है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर संभव हो तो पीड़िता को दिल्ली के एम्स में एयरलिफ्ट किया जाए साथ ही कहा कि पीड़िता की मेडिकल रिपोर्ट भी पेश की जाये. इससे पहले पीड़िता के पिता की हिरासत में हुई मौत पर भी सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार से कई सवाल पूछे.

सीजेआई ने कहा "हम मामले पर 2 बजे फिर सुनवाई करेंगे और सभी पांच मामलों पर केस ट्रांसफर करने और पीड़िता और उसके वकील के इलाज को लेकर आदेश पारित करेंगे''. उन्होंने कहा डॉक्टर सबसे अच्छे जज होते हैं, वे यह तय कर सकते हैं कि क्या उसे और उसके वकील को दिल्ली में एयरलिफ्ट किया जा सकता है." पीड़िता की सुरक्षा में तैनात दो महिला पुलिसकर्मियों सहित तीन पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है, आरोप है कि वह पीड़िता के साथ मौजूद नहीं थे. 

चीफ जस्टिस ने पूछा, 'पीड़िता की क्या हालत है? सॉलिसिटर जनरल ने कहा, 'वह वेंटिलेटर पर है' CJI ने पूछा है 'क्या वह स्थानांतरित करने की स्थिति में है? जवाब में कहा गया हम पीड़ित को स्थानांतरित नहीं करना चाहते हैं, उसे एयरलिफ्ट किया जा सकता है. हम एम्स से पूछ सकते हैं.'

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने उन्नाव रेप केस और रायबरेली में इस हफ्ते हुई दुर्घटना पर अब तक हुई सीबीआई जांच की रिपोर्ट आज दोपहर 12 बजे तक सुप्रीम कोर्ट में पेश करने को कहा था. सीजेआई रंजन गोगोई ने कहा कि आज दोपहर 12 बजे तक सीबीआई के किसी जिम्मेदार अधिकारी को अदालत में पेश किया जाये. जिसके बाद सीबीआई की जॉइन्ट डायरेक्टर को अदालत में पेश होना पड़ा.  

उन्नाव रेप केस के सभी मामलों की सुनवाई दिल्ली ट्रांसफर, SC ने CBI से मांगी स्टेटस रिपोर्ट

First published: 1 August 2019, 13:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी