Home » इंडिया » Unnao Rape Case: Former BJP MLA Kuldeep Singh Sengar has been convicted by court
 

उन्नाव रेप केस: कुलदीप सिंह सेंगर दोषी करार, चार्जशीट में देरी पर CBI को फटकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 December 2019, 15:50 IST

Unnao Rape Case: उन्नाव के बहुचर्चित रेप और अपहरण(Rape and Kidnap) मामले में बीजेपी(BJP) के पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर(Kuldeep Singh Senger) को कोर्ट से बड़ा झटका लगा है. दिल्ली(Delhi) की तीस हजारी कोर्ट(Tis Hazari Court) ने कुलदीप सिंह सेंगर को दोषी करार दिया है. कोर्ट ने चार्जशीट में दोषी पर CBI को भी फटकार लगाई है.

तीस हजारी कोर्ट ने महिला आरोपी शशि सिंह को बरी कर दिया है. शशि सिंंह पर पीड़ित को विधायक सेंंगर के पास ले जाने के आरोप थे. सेंगर पर आपराधिक षड्यंत्र, दुष्कर्म, अपहरण और पॉक्सो एक्ट के तहत आरोप तय किए गए थे. इस मामले में वह तिहाड़ जेल में बंद हैं. वहीं पीड़िता दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती है.

तीस हजारी कोर्ट ने इस मामले में 10 दिसंबर को फैसला सुरक्षित रखा था. अब 19 दिसंबर को सेंगर को सजा सुनाई जाएगी. सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर यह केस लखनऊ से दिल्ली ट्रांसफर हुआ था. 5 अगस्त से हर रोज केस सी बंद कमरे में सुनवाई हो रही थी. अभियोजन पक्ष के 13 गवाहों और बचाव पक्ष के 9 गवाहों से केस में जिरह हुई. यहां तक कि पीड़िता के बयान के लिए एम्स में स्पेशल कोर्ट बनाया गया था.

बता देें कि भाजपा से निष्कासित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उसके साथियों ने साल 2017 में नाबालिग लड़की को अगवा कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया था. इसके बाद पीड़िता के बयान के आधार पर मामला दर्ज कर चार्जशीट दायर की गई थी. दूसरी तरफ मारपीट मामले में विधायक के दबाव में पुलिस ने पीड़िता के पिता के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जेल भेज दिया था.

जेल में पीड़िता के पिता की मौत हो गई थी. ढाई साल के घटनाक्रम में पीड़िता के पिता, चाची और मौसी की मौत हो चुकी है, वहीं पीड़िता के चाचा जेल में हैं.

आजम खान के बेटे ने चुनाव आयोग से झूठ बोलकर लड़ा था चुनाव, हाईकोर्ट ने छीनी विधायकी

उन्नाव रेप केस: कुलदीप सिंह सेंगर दोषी करार, चार्जशीट में देरी पर CBI को फटकार

First published: 16 December 2019, 15:21 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी