Home » इंडिया » Unnao Rape Case: SC defers shifting of survivor from King George Medical College
 

उन्नाव रेप केस: पीड़िता का परिवार लखनऊ में ही कराना चाहता है इलाज- सुप्रीम कोर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 August 2019, 13:43 IST

सुप्रीम कोर्ट ने उन्नाव रेप केस की पीड़िता को उपचार के लिए लखनऊ के किंंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज से ट्रांसफर पर कोई आदेश नहीं दिया. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि पीड़िता का परिवार उनका इलाज लखनऊ में ही चाहता है. सुप्रीम कोर्ट ने बताया कि पीड़िता की मां अपनी बेटी का उपचार लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज में ही जारी रखना चाहती हैं और दिल्ली शिफ्ट नहीं कराना चाहतीं.

कोर्ट को पीड़िता की तबीयत की भी जानकारी दी. पीड़िता अभी लखनऊ के अस्पताल में भर्ती है, वह ICU में ही है लेकिन क्रिटिकल नहीं है. अदालत ने इस मामले को अब सुप्रीम कोर्ट की दूसरी बेंच को सौंप दिया है. यह नई बेंच अब पूरे केस पर नजर बनाए रखेगी और पीड़िता के इलाज पर भी लगातार रिपोर्ट लेती रहेगी.

 

इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने पीड़िता के चाचा को रायबरेली जेल से तिहाड़ जेल शिफ्ट करने का आदेश दिया है. दरअसल, पीड़ित पक्ष ने एक दिन पहले ही उन्हें तिहाड़ जेल शिफ़्ट करने की मांग की थी. यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में बताया कि उन्होंने कोर्ट के आदेश के बाद 25 लाख रुपए का मुआवजा पीड़िता के लिए जारी कर दिया है.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पीड़िता के वकील के घर के बाहर CRPF की टीम तैनात कर दी गई है. जो वकील पीड़िता के चाचा का केस लड़ रहे हैं, उन्हें भी सुरक्षा दी गई है. 

आम जनता को बड़ा तोहफा, आज से सस्ते हो गए घर और कार, LPG सिलेंडर के दाम में भी भारी कटौती

ट्रंप ने फिर छेड़ा कश्मीर की मध्यस्थता का राग, तो भारत के विदेश मंत्री ने लगाई लताड़ !

First published: 2 August 2019, 12:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी