Home » इंडिया » UP-Bihar Mla purchased illegal Ak-47, police investigation revealed the truth
 

यूपी-बिहार के बाहुबली विधायकों को बेची गईं अवैध Ak-47, जांच में हुआ खुलासा

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 October 2018, 10:25 IST
(File Photo)

बिहार के मुंगेर जिले में बरामद किए गए 20 एके-47 मामले में पुलिस ने एक अन्य मास्टरमाइंड को गिरफ्तार कर लिया है. मंजार आलम नाम के इस शख्स को पुलिस ने एक गेस्ट हाउस से गिरफ्तार किया है. पुलिस जांच में खुलासा हुआ है कि मंजर के संबंध अन्य आरोपियों से भी हैं. हालांकि इस मामले में विस्तृत जांच के लिए बिहार सरकार ने एनआईए को पत्र लिखा है.

पुलिस की मानें तो इस मामले में मंजर और मोनाजिर की गिरफ्तारी बहुत जरुरी है. पुलिस का कहना है कि अवैध हथियारों की बरामदगी में मंजर और मोनाजिर की मुख्य भूमिका रही है. ये आरोपी इन खतरनाक हथियारों को मेड इन मुंगेर बनाकर बेचते थे. ये दोनों रिश्ते आपस में रिश्तेदार भी हैं.

पुलिस ने बताया कि इन दोनों के पास उन सभी लोगों की लिस्ट है जिन्होंने बीते सालों में इन दोनों से ये खतरनाक हथियार खरीदे थे. पुलिस ने बताया कि जांच के दौरान इन दोनों ने ये बयान दिया है कि यूपी और बिहार के विधायकों ने इन दोनों से एके-47 खरीदी थीं. पूछताछ में उन्होंने बताया कि उतर प्रदेश के दो विधायकों और बिहार के एक बाहुबली विधायक को ये हथियार बेचे थे. पुलिस का कहना है कि मुंगेर से लेकर जबलपुर और अन्य जगहों पर चल रहे हथियारों की तस्करी के इस खेल के अधिकांश प्रमुख आरोपी अब उनके क़ब्ज़े में हैं. पुलिस अब इन हथियारों को खरीदने वालों के खिलाफ जांच कर रही है.

Video: झूठा साबित हुआ PM मोदी के 15 लाख का वादा, नितिन गडकरी ने किया बड़ा खुलासा

पुलिस की मानें तो पुलिस के पास उन लोगों के नाम हैं जिन्होएँ ये अवैध हथियार खरीदे थे. लेकिन पुलिस अभी जांच और सबूत जुटाने में लगी हुई है. जांच टीम का मानना है कि कुछ हथियार नक्सलियों को भी बेचे गए हैं. पुलिस की जांच से सामने आए तथ्यों से ये बात साफ़ होती है कि मुंगेर से हथियारों की तस्करी का धंधा खुलेआम चल रहा है.

First published: 10 October 2018, 10:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी