Home » इंडिया » UP: BJP will get only 5 seats if congress meet with SP-BSP, says survey
 

UP में सपा-बसपा के साथ आई कांग्रेस तो बीजेपी की होगी शर्मनाक हार- सर्वे

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 January 2019, 8:42 IST

उत्तर प्रदेश में राजनीतिक समीकरणों को देखते हुए कई समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने हाथ मिलाया है. हालांकि अभी इस गठबंधन से कांग्रेस को बाहर रखा गया है लेकिन चुनावी सर्वे बताते हैं कि अगर इस गठबंधन को कांग्रेस का हाथ मिल गया तो भारतीय जनता पार्टी की शर्मनाक हार हो सकती है. प्राइवेट न्यूज़ चैनल आजतक और कार्वी इनसाइट्स के सर्वे बताते हैं कि सपा बसपा के साथ अगर राहुल गांधी आ गए तो बीजेपी महज 5 सीटों तक सिमट कर रह जाएगी.

सर्वे के मुताबिक़ अगर अखिलेश यादव की पार्टी सपा और मायावती के नेतृत्व वाली पार्टी बहुजन समाज पार्टी का गठबंधन यूपी की 80 में से 58 सीटों पर जीत हासिल कर सकता है. वहीं अगर भारतीय जनता पार्टी अपनी सहयोगी पार्टी अपना दल के साथ मिलकर चुनावी मैदान में उतरी तो दोनों को 18 सीटें मिलने की संभावना है.


सर्वे ये भी बताते हैं कि 2014 के आम चुनावों में प्रचंड बहुमत के साथ 71 सीटें जीतने वाली बीजेपी के लिए स्थिति शर्मशार हो सकती है अगर इस गठबंधन में दोनों दलों के साथ कांग्रेस और आरएलडी भी शामिल हो गए. ऐसे राजनीतिक आंकड़ों की हालत में इस महागठबंधन के लिए 75 सीटों की जीत तय है. जबकि बीजेपी को महज 5 सीटों में ही संतोष करना पड़ेगा.

बजट से 9 दिन पहले पियूष गोयल को मिला वित्त मंत्रालय का प्रभार, अरुण जेटली बने रहेंगे बिना पोर्टफोलियो के मंत्री

क्या है वोट शेयर

सीटों के आंकड़ों के साथ अगर बात वोट शेयर की करें तो बीजेपी की स्थिति यहां भी कोई अच्छी नहीं है. 2014 में जहां बीजेपी के वोट शेयर 43.3 फीसदी थे वो अब गिरकर 36 फीसद रह जाएंगे. वहीं एसपी-बीएसपी गठबंधन का वोट शेयर 42.8 प्रतिशत से बढ़त बनाकर 46 प्रतिशत तक होने की उम्मीद है.बात अगर कांग्रेस की करें तो इस गठबंधन से कांग्रेस को कोई खास नुकसान नहीं होगा. वहीं कांग्रेस पार्टी 2 सीटों के बजाय 4 सीटें अपने पाले में कर सकती है. कांग्रेस का वोट शेयर भी 12 फीसदी तक बढ़ने की उम्मीद है जो कि पहले 7.5 फीसदी था.

First published: 24 January 2019, 8:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी