Home » इंडिया » UP Police nabbed BJP leader Brijpal Teotia attack shooters
 

बीजेपी नेता बृजपाल तेवतिया पर गोली बरसाने वाले शूटर दबोचे गए

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 August 2016, 12:13 IST
(पत्रिका)

गाजियाबाद समेत एनसीआर में सनसनी मचा देने वाले शूटआउट के मामले में पुलिस ने चार शूटर्स को हिरासत में लिया है. बीजेपी नेता बृजपाल तेवतिया पर गाजियाबाद में हुए जानलेवा हमले की वजह पुरानी रंजिश निकल कर सामने आई है.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, करीब 10 साल पहले फरीदाबाद में हुई एक हत्या का बदला लेने के लिए बृजपाल पर हमले के आरोपी मनोज ने भाड़े के शूटरों से हमला कराया है. मनोज से बृजपाल की पुरानी रंजिश है. सूत्रों का कहना है कि पुलिस ने तेवतिया पर फायरिंग करने वाले चारों शूटर्स को हिरासत में ले लिया है.

दावा किया जा रहा है कि किसी जानकार गनर या ड्राइवर ने तेवतिया की रेकी की. इसके बाद में शूटरों ने वारदात को अंजाम दिया. मेरठ के दौराला से पुलिस ने आठ लोगों को हिरासत में लिया है. पुलिस का दावा है कि पूछताछ के बाद इस मामले में कई अहम कड़ी जुड़ सकती है. 

पत्रिका

पुरानी रंजिश का परिणाम

पुलिस सूत्रों से मिली रिपोर्ट के मुताबिक बृजपाल तेवतिया पर हुआ हमला पुरानी रंजिश का परिणाम है. 2006 में फरीदाबाद में बृजपाल के विरोधी मनोज के एक रिश्तेदार समेत दो लोगों की हत्या की गई थी. रिश्तेदार को मनोज का जीजा बताया जा रहा है.

वहीं सूत्रों की मानें तो हिरासत में ली गई गैंगस्टर राकेश हसनपुरिया की पत्नी की इस हमले में कोई भूमिका नहीं मिली है. बृजपाल तेवतिया पर हुए जानलेवा हमले का खुलासा करने के लिए सीनियर अफसरों ने गाजियाबाद के अलावा नोएडा-ग्रेटर नोएडा सहित आसपास के जिले में तैनात तेज-तर्रार पुलिस अफसरों की भी मदद ली है. ग्रेटर नोएडा में तैनात एक इंस्पेक्टर भी इस मामले की तफ्तीश में जुटे हैं.

पत्रिका

मेरठ के दौराला में दबिश

एसटीएफ की कई टीमों ने मेरठ के दौराला गांव में रात में दबिश दी. अचानक पड़े इस छापे से गांव में हड़कंप मच गया. पुलिस ने इस दौरान आठ लोगों को हिरासत में लिया.

पूछताछ के लिए सभी को गाजियाबाद लाया गया. पत्रिका को सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि यहां पर उन्होने कई राजनीतिक लोगों के जुड़े होने की बात कबूली है. इसके बाद में पुलिस की जांच और भी बारीक हो गई है.

एसएसपी गाजियाबाद के सुनील एमानुल के मुताबिक भाजपा नेता पर हुए जानलेवा मामले में हम मंजिल के काफी करीब हैं. हिरासत में लिए गए लोगों से पूछताछ में कई अहम बात सामने आई है. जल्द ही इस मामले में कुछ और गिरफ्तारी करके पूरी साजिश का खुलासा कर दिया जाएगा.

First published: 17 August 2016, 12:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी