Home » इंडिया » up police officer transfer after he recover illegal weapon
 

सपा नेता की गाड़ी से अवैध असलहा बरामद करने वाले इंस्पेक्टर का तबादला

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 August 2016, 11:11 IST
(पत्रिका)

उत्तर प्रदेश में सत्ता की अराजकता उस  वक्त सामने आ गई, जब समाजवादी पार्टी नेता की गाड़ी से अवैध असलहा बरामद करने वाले पुलिस अधिकारी का तबादला दूसरे जिले में कर दिया गया.

बताया जा रहा है कि सुलतानपुर की जिला पंचायत अध्यक्ष उषा सिंह के पति शिवकुमार सिंह की गाड़ी से अवैध असलहा बरामद करना वहां के कोतवाल वीपी सिंह को काफी महंगा पड़ा.

इस कार्रवाई के बाद शासन ने तत्काल प्रभाव से उनका तबादला दूसरे जिले में कर दिया. बताया जा रहा है कि तीन दिन पहले इंसपेक्टर वीपी सिंह ने सपा नेता शिवकुमार सिंह को असलहों के भारी जखीरे के साथ पकड़ा था.

आरोपों के मुताबिक असलहों में अवैध पिस्टल भी थी. इसके बाद जैसे ही इस बात की जानकारी सपा कार्यकर्ताओं को मिली कि नेता जी अवैध असलहे के मामले में पकड़े गए हैं, उन्होंने कोतवाली पर धावा बोलकर शिवकुमार को छुड़ा लिया.

घटना के बारे में बताया जा रहा है कि शिव कुमार सिंह लाल बत्ती लगी अपनी तीन गाड़ियों के काफिले के साथ सुलतानपुर आ रहे थे, तभी पुलिस ने उन्हें रोक लिया.

लाल बत्ती लगी गाड़ी पर चलने के लिए वैध कागज न दिखा पाने की वजह से पुलिस ने तत्काल ही उनकी गाड़ी पर लगी लाल बत्ती को उतार लिया. उसके बाद पुलिस ने जब उनकी गाड़ी की तलाशी ली, तो पुलिस के होश उड़ गए. गाड़ियों की तलाशी में मिले असलहे के जखीरे को देखकर पुलिस वाले हैरान रह गए.

आनन-फानन में पुलिस ने गाड़ियों को कब्जे में लिया और सबको लेकर कोतवाली आ गई. जांच पड़ताल में अवैध असलहे के साथ तीन लोगों को हिरासत में लिया गया.

लेकिन इस मामले में सपा नेता के खिलाफ एक्शन लेने के बजाए प्रशासन ने इंस्पेक्टर वीपी सिंह का ही तबादला गैरजनपद में कर दिया. इस खबर से जिले के पुलिस अधिकारी और कर्मचारी सकते में हैं.

First published: 11 August 2016, 11:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी