Home » इंडिया » One more soldier injured in Uri attack succumbs to his injuries in R&R Hospital
 

उरी हमला: नायक राजकिशोर सिंह भी शहीद, अब तक 19 जवानों की शहादत

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 September 2016, 9:43 IST
(फाइल फोटो)

जम्मू-कश्मीर के उरी में 18 सितंबर को हुए आतंकी हमले में जख्मी एक और जवान ने दम तोड़ दिया है. इसके साथ ही इस हमले में भारतीय सेना के शहीद जवानों की संख्या 19 हो गई है.

दिल्ली में सेना के रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल में इलाज के दौरान घायल जवान की मौत हो गई. शहीद हुए नायक राजकिशोर सिंह को इस हमले में गोलियां लगी थीं, जिसके बाद उनका इलाज चल रहा था. भोजपुर के रहने वाले शहीद राजकिशोर बिहार रेजीमेंट के छठे बटालियन में तैनात थे.

11 लाख के मुआवजे का एलान

इस बीच बिहार सरकार ने नायक राजकिशोर सिंह के परिजनों को 11 लाख रुपये के मुआवजे का एलान किया है. उरी हमले के बाद बुधवार देर रात से गुरुवार सुबह तक भारतीय सेना ने पहली बार एलओसी पार करते हुए सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था.

बताया जा रहा है कि इस हमले में भारतीय सेना के पैरा ट्रूपर कमांडो की पांच टीमों ने एलओसी पार आतंकी कैंपों को निशाना बनाया. जिसमें 38 आतंकवादी मार गिराए गए, जबकि टेरर लॉन्च पैड के तबाह होने का दावा किया जा रहा है.

जैश-ए-मोहम्मद पर हमले का शक

18 सितंबर का उरी सेक्टर में सेना के ब्रिगेड मुख्यालय पर आतंकियों ने हमला किया था, जिसमें 18 जवान शहीद हो गए थे. इस दौरान जवाबी कार्रवाई में 4 आतंकियों को मार गिराया गया था.

उरी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान पर सख्त रुख अपनाया था. जैश-ए-मोहम्मद नाम के आतंकी संगठन पर इस हमले को अंजाम देने का शक है. इसका सरगना अजहर मसूद है, जिसे भारत ने आईसी-814 विमान अपहरण के बाद रिहा किया था.

जैश पर भारतीय संसद पर 2001 में हुए हमले और इस साल की शुरुआत में पठानकोट एयरबेस पर हमले को अंजाम देने का आरोप है. उरी हमले के बाद भारत ने कूटनीतिक रूप से भी पाकिस्तान को अलग-थलग करने की नीति अपनाई है. पीएम मोदी ने नवंबर में होने वाले सार्क सम्मेलन में इस्लामाबाद न जाने का फैसला किया, जिसके बाद सार्क सम्मेलन रद्द हो गया.

First published: 30 September 2016, 9:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी