Home » इंडिया » uri attack dead army man wife refuse to take 5 lakh check
 

उरी शहीद की विधवा ने नीतीश को धिक्कारा, मेरा पति शहीद हुआ, शराब पीकर नहीं मरा जो 5 लाख दे रहे हो

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 September 2016, 11:27 IST
(एजेंसी)

उरी में शहीद हुए बिहार के आरा जिले के पीरो निवासी अशोक सिंह की पत्नी संगीता देवी ने नीतीश सरकार से 5 लाख रुपये की सहायता राशि लेने से मना कर दिया है.

शहीद की पत्नी को यह चेक बिहार सरकार की ओर से मंत्री जय कुमार सिंह देने गए थे. चेक को अस्वीकार करते हुए संगीता ने उनसे कहा, "अगर हम चेक लेते हैं तो यह बिहार के शहीदों का अपमान होगा. मेरे पति ने देश के लिए अपनी जान दी है और राज्य सरकार हमें 5 लाख रुपये का चेक नहीं बल्कि भीख दे कर अपमान कर रही है."

संगीता देवी ने कहा, "पूरे देश को पता है कि मेरा पति शहीद हुआ है, वह कहीं शराब पीकर या नाले में गिरकर नहीं मरा है. यूपी की सरकार अपने प्रदेश के शहीद जवानों को 20 लाख रुपये दे रही है. झारखंड अपने शहीदों को 10 लाख रुपये दे रहा है.".

संगीता के इन सवालों से सकते में आए मंत्री जय कुमार ने तत्काल ही पटना फोन करके मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को हालात से अवगत कराया.

इसके तुरंत बाद नीतीश कुमार ने आदेश जारी किया कि शहीद की विधवा को 11 लाख रुपये का चेक दिया जाए. इसके घंटे भर बाद संगीता को 11 लाख रुपये का चेक राज्य सरकार की ओर से सौंपा गया.

इसके साथ ही बिहार सरकार ने यह ऐलान भी किया कि राज्य के तीन अन्य शहीदों के परिजनों को भी 11-11 लाख रुपये की सहायता राशि दी जाएगी.

इस घटना से पूर्व शहीद अशोक सिंह की पत्नी संगीता ने सोमवार को कहा था, ''हमको और कुछ नहीं चाहिए. मेरे पति और 17 जवानों की शहादत का बदला चाहिए. पाकिस्तान पर हमला होना चाहिए.’’

इसके अलावा बिहार के गया जिले के शहीद एसके विद्यार्थी की बेटी ने कहा था, ''मोदीजी! पाकिस्तान को कड़ा जवाब दें.''

First published: 21 September 2016, 11:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी