Home » इंडिया » US Experts says PM Modi will again elected in 2019 Lok Sabha Polls with majority, after analysing UP-Uttarakhand polls result
 

अमेरिकी विशेषज्ञों की मानें तो 2019 में देश फिर कहेगा, अबकी बार-मोदी सरकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 March 2017, 20:07 IST

उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को मिली बंपर जीत के बाद देश ही नहीं विदेशों में भी पीएम मोदी की लोकप्रियता में इजाफा हुआ है. अमेरिकी विशेषज्ञों का मानना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की मौजूदा जीत यह स्पष्ट साबित करती है कि 2019 के आम चुनाव में भी देश में वे लोगों की पहली पसंद होंगे.

जॉर्ज वाशिंगटन यूनिवर्सिटी में राजनीति विज्ञान और अंतरराष्ट्रीय मामलों के असिस्टेंट प्रोफेसर एडम जीगफील्ड के मुताबिक विधानसभा चुनाव ज्यादा बदलाव के संकेत नहीं देते. लेकिन उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजों ने दिखाया है कि साल 2014 के आम चुनाव कोई असामान्य बात नहीं थे. भाजपा के उम्मीदवार काफी अंतर से अपने विरोधियों से जीते हैं और यह पार्टी के लिए बड़ी उपलब्धि है.

दूसरी तरफ, अमेरिकन एंटरप्राइज इंस्टीट्यूट के सदानंद धूमे की मानें तो यह जीत बताती है कि पीएम मोदी 2019 में भी लोगों की पहली पसंद होंगे और दोबारा सत्ता में आएंगे.

चुनाव के दौरान उत्तर प्रदेश के मतदाताओं से रूबरू होने वाले धूमे ने कहा कि भाजपा ने खुद को जाति से ऊपर उठकर चुनाव लड़ने का ऐलान किया, लेकिन प्रदेश में जाति कार्ड खेला.

उन्होंने कहा कि भाजपा को नोटबंदी का काफी फायदा मिला. मोदी के इस फैसले की लोगों पर गहरी छाप पड़ी और लोगों ने इसे पसंद भी किया.

वहीं, एक अन्य विशेषज्ञ की राय इनसे जुदा है. जॉर्ज टाउन यूनिवर्सिटी के वॉल्श स्कूल ऑफ फॉरेन सर्विस के प्रोफेसर इरफान नूरुद्दीन की मानें तो 2019 में भाजपा बहुमत के साथ नहीं आ पाएगी. वह गठबंधन के साथ सरकार बनाने में सफल होगी.

हालांकि नूरुद्दीन ने भाजपा के प्रचार अभियान की सराहना की और कहा कि भाजपा ने चुनाव वाले राज्यों में प्लानिंग के तहत बारीकी से प्रचार किया है. इससे पार्टी को फायदा मिला. अगर भाजपा को सीधे विपक्ष का सामना करना पड़ता तो शायद नुकसान उठाना पड़ता.

नूरुद्दीन ने इस दौरान देश की विपक्षी पार्टियों को भी नसीहत देते हुए कहा कि मोदी के खिलाफ विपक्ष एकजुट होकर चुनाव में उतरे, तभी 2019 में मोदी को शिकस्त दी जा सकती है.

First published: 14 March 2017, 20:07 IST
 
अगली कहानी