Home » इंडिया » US government has reportedly declined to share information with India on the use of F-16 fighter jets by the Pakistan Air Force agaisnt ind
 

अमेरिका ने फिर दिखाई पाकिस्तान प्रेम, F-16 लड़ाकू जेट पर भारत के साथ सूचना साझा करने से इंकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 April 2019, 14:13 IST

अमेरिकी ट्रंप प्रसाशन ने भारत सरकार को बड़ा झटका देते हुए पाकिस्तान द्वारा किए गए हवाई हमले की जानकरी साझा करने से इंकार कर दिया है. अमेरिका ने बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद 27 फरवरी को पाकिस्तान वायु सेना द्वारा जम्मू-कश्मीर में F-16 लड़ाकू जेट के उपयोग पर भारत के साथ सूचना साझा करने से मना कर दिया है.

अमेरिकी अधिकारी के हवाले से बताया गया कि ''27 फरवरी को भारतीय सैन्य संस्थानों पर एफ -16 विमान का उपयोग के बारे में भारतीय पक्ष द्वारा सूचित किया था. लेकिन हम इस विषय पर कोई भी जानकारी साझा नहीं करेंगे क्योंकि यह अमेरिका और पाकिस्तान के बीच एक द्विपक्षीय मामला है."

अपने रुख का बचाव करते हुए अधिकारी ने आगे कहा कि भारत अमेरिका द्वारा लिए स्टैंड को समझ सकता है. “यदि कल कोई तीसरा देश भारतीय वायुसेना द्वारा उपयोग किया जा रहा C130 या C17 या अपाचे के बारे में जानकारी चाहता हो तो हमारा उत्तर वही होगा हम किसी से ये जानकारी साझा नहीं कर सकते हैं क्योंकि यह भारत और अमेरिका के बीच एक द्विपक्षीय मामला है.”

भारतीय वायु सेना ने मार्च में अमेरिका से शिकायत की थी कि पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ आक्रामक उपयोग के लिए जेट विमानों का उपयोग करके एफ -16 पर अंतिम-उपयोगकर्ता समझौते का उल्लंघन किया था. वायु सेना ने हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइल से AMRAAM के कुछ हिस्सों को सबूत के तौर पर दिखाया था जिससे सभूत होता है कि पाकिस्तान ने हवाई हमले के दौरान यूएस-निर्मित एफ -16 लड़ाकू जेट उपयोग किया था.

हालांकि पाकिस्तान ने स्पष्ट रूप से कहा था कि कोई भी F-16 फाइटर जेट का इस्तेमाल नहीं किया गया था और इस बात से इनकार किया था कि और उसके एक विमान को भारतीय वायुसेना द्वारा नीचे गिराया गया था.

 

First published: 28 April 2019, 14:11 IST
 
अगली कहानी