Home » इंडिया » Uttar Pradesh: 9-member BJP team reaches Kairana, will probe into mass exodus
 

कैराना पहुंची बीजेपी की 9 सदस्यीय फैक्ट फाइंडिंग टीम

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 June 2016, 12:43 IST

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कैराना कस्बे से हिंदुओं के कथित पलायन पर सियासत तेज हो गई है. बीजेपी की नौ सदस्यों की फैक्ट फाइंडिंग टीम इलाके में आज पहुंची है.

बीजेपी का जांच दल पार्टी के नेता सुरेश खन्ना के नेतृत्व में आज सुबह कैराना पहुंचा. जांच टीम में कैराना के सांसद हुकुम सिंह, बागपत सांसद सत्‍यपाल सिंह, राघव लखनपाल, और बृजलाल भी शामिल हैं. इस टीम में 5 सांसद भी हैं.

'आर्थिक कारणों से पलायन'

इस बीच शामली के जिला अधिकारी सुजीत कुमार ने कहा है कि कुछ लोगों ने ‘सांप्रदायिक गतिविधि’ के कारण नहीं, बल्कि ‘आर्थिक कारणों’ से इस कस्बे को छोड़ा है. हुकुम सिंह ने भी अपने दावे से पलटते हुए कहा था कि पलायन का आधार सांप्रदायिक नहीं, बल्कि कानून व्यवस्था है.

अपने पुराने दावे के उलट हुकुम सिंह ने कहा कि उनका इरादा हिन्दू शब्द इस्तेमाल करने का नहीं था और पलायन की वजह सांप्रदायिक नहीं आपराधिक है.

अपने बयान से पलटते हुए हुकुम सिंह ने साफ किया कि यह पूरा मामला सांप्रदायिक नहीं, बल्कि अपराधियों से जुड़ा हुआ है. हुकुम सिंह के मुताबिक यह पूरी तरह से प्रशासनिक विफलता का नतीजा है.

'सांप्रदायिक समस्या नहीं'

पलायन करने वाले लोगों की लिस्ट पर भी बीजेपी सांसद सफाई देते नज़र आए. उन्होंने माना की उनकी लिस्ट में कुछ गड़बड़ी हो सकती है और अगर यह सच साबित होता है तो उन्हें माफ़ी मांगने से भी परहेज नहीं है.

हुकुम सिंह का कहना है कि यह लिस्ट उनके कार्यकर्ताओं ने तैयार की थी और अगर प्रशासन को इसमें कोई गलती लगती है, तो वह अपनी लिस्ट जारी करे. जब तक नई लिस्ट सामने नहीं आ जाती वह अपने 346 लोगों की लिस्ट पर कायम हैं.

साथ ही हुकुम सिंह ने माना था कि कैराना में हिन्दू-मुस्लिम समस्या नहीं है. असल में कैराना में अपराधियों का आतंक है. हुकुम सिंह ने आरोप लगाया कि अफसरों को इलाके में ईमानदारी से काम नहीं करने दिया जाता.

पीएम मोदी की नजर

हुकुम सिंह का आरोप है कि समाजवादी पार्टी की सरकार के नेताओं की बात सुनने वाला ही अधिकारी यहां रहेगा. साथ ही बीजेपी सांसद ने कहा कि प्रशासन ऐसे पीड़ित परिवारों की सूची क्यों नहीं जारी करता.

मंगलवार को बहराइच में केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक ने कहा कि कैराना मामले पर खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नज़र रख रहे हैं

First published: 15 June 2016, 12:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी