Home » इंडिया » Uttar Pradesh: BJP to audit Yogi government's work before UP assembly election
 

यूपी विधानसभा चुनाव से पहले योगी सरकार के काम-काज की समीक्षा करेगी BJP

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 November 2019, 9:50 IST

यूपी में साल 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी अभी से सक्रिय हो गई है. भारतीय जनता पार्टी इस बाबत योगी सरकार की योजनाओं की जमीनी हकीकत जानने के लिए उनके काम की समीक्षा कराने जा रही है. पार्टी के एक सीनियर नेता ने बताया कि पदाधिकारी हर गांव जाकर पता लगाएंगे कि योगी सरकार की योजनाओं का लाभ लाभार्थियों को मिल पा रहा है या नहीं.

बीजेपी नेता ने बताया कि पदाधिकारी जाकर पता लगाएंगे कि ढाई सालों में योगी सरकार की कौन सी योजना सबसे अच्छी रही. इसमें यह भी पता किया जाएगा कि योगी सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचने में कौन रोड़ा अटका रहा है. उन्होंने बताया कि इन सब चीजों की समीक्षा होगी और इसके बाद वह रिपोर्ट शीर्ष नेतृत्व को भेजी जाएगी.

नेता ने बताया कि गांवों में जल व पर्यावरण संरक्षण, सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, सबको शिक्षा एवं स्वास्थ्य जैसे कार्यक्रम का जमीनी हकीकत लिया जाएगा. गांव में प्रभावी लोगों से संपर्क कर उन्हें पार्टी के पक्ष में जोड़ने का भी इस दौरान प्रयास किया जाएगा. चाय पर चर्चा कार्यक्रम भी गांवों में हो सकती है. दलित बस्तियों में इस दौरान खास फोकस रहेगा.

उन्होंने बताया कि दलित बस्तियों में प्रवास के दौरान भोजन किया जाएगा. बूथ समिति के सदस्यों के साथ बैठकर भी हकीकत जानने का प्रयास किया जाएगा. गांव के प्रबुद्ध लोगों को भाजपा से जोड़ने का प्रयास किया जाएगा. सभी का फीडबैक लेने के बाद रिपोर्ट प्रदेश मुख्यालय में देंगे और उसकी बाद में समीक्षा होगी. इसके ही आधार पर आगे के कार्यक्रम बनाए जाएंगे. जिससे कि मिशन 2022 में कोई समस्या न हो.

योगी आदित्यनाथ भाजपा के एक बड़े नेता हैं, लेकिन सरकार सिर्फ उनकी नहीं है. यह फीडबैक पार्टी अपने लिए ले रही है और अपनी जमीनी तैयारी के लिए ऑडिट करने जा रही है. पार्टी का कहना है कि कोई भी सत्ता में रहने वाली पार्टी जब चुनाव में जाती है तो उसे अपना रिपोर्ट कार्ड देना होता है. जब कार्यकर्ता जनता के सामने जाएंगे, तब पता चलेगा कि अधिकारी के दावे के मुताबिक काम हुआ है या नहीं.

संविधान दिवस: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद संसद भवन से करेंगे डिजिटल प्रदर्शनी का उद्घाटन

महाराष्ट्र: क्या अकेले पड़ गए हैं अजित पवार? NCP का दावा- 54 में से 53 विधायक उनके साथ

First published: 26 November 2019, 9:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी