Home » इंडिया » Uttarakhand: More than 2 children man will not able to participate in panchayat elections
 

उत्तराखंड की BJP सरकार का फरमान, दो से ज्यादा बच्चे वाले नहीं लड़ पाएंगे पंचायत चुनाव

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 June 2019, 17:18 IST

उत्तराखंड की त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार ने पंचायत चुनाव के लिए एक नया फरमान जारी किया है. इसके तहत अब 2 बच्चे वाले लोग पंचायत चुनाव नही लड़ सकेंगे. राज्य सरकार ने पंचायती राज (संशोधन) अधिनियम 2019 विधानसभा में पारित करा लिया है. उत्तराखंड में करीब 50 हजार पंचायत प्रतिनिधि चुने जाते हैं. 

इसके बाद यह अधिनियम अब राज्यपाल के पास जाएगा, फिर प्रदेश में लागू हो जाएगा. इसके साथ ही आगामी चुनाव में यह बदलाव लागू हो सकता है. इसके लागू होते ही 2 बच्चे वाले लोग पंचायत चुनाव नही लड़ पाएंगे. 

इस विधेयक में कहा गया कि दो से अधिक बच्चे वाले लोग ग्राम प्रधान, क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत का चुनाव नहीं लड़ सकेंगे. चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी की शैक्षणिक योग्यता भी निर्धारित की जाएगी.

संसदीय कार्यमंत्री मदन कौशिक ने यह प्रस्ताव सदन में पेश किया. इस संशोधन के बाद पंचायत में चुनाव लड़ने के लिए अब न्यूनतम शैक्षिक योग्यता दसवीं पास होगी. लेकिन महिला, एससी-एसटी आदि को इससे छूट मिलेगी. वहीं सामान्य श्रेणी की महिला के साथ अनुसूचित जाति-जनजाति श्रेणी के पुरुषों के लिए न्यूनतम योग्यता आठवीं पास रखी गई है. अनुसूचित जाति-अनुसूचित जनजाति की महिलाओं की न्यूनतम योग्यता पांचवीं पास रखी गई है. 

Air India समेत इन 28 बड़ी सरकारी कंपनियों को बेचने की तैयारी में मोदी सरकार

Video: कैलाश विजयवर्गीय के MLA बेटे की खुलेआम गुंडागर्दी, नगर निगम अधिकारी को दौड़ाकर बैट से पीटा

First published: 26 June 2019, 17:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी