Home » इंडिया » Uttarakhand- pm Modi speaking at inauguration of Patanjali Research Institute at Patanjali Yogpeeth in Haridwar
 

रामदेव ने पीएम मोदी को बताया 'राष्ट्र ऋषि'

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 May 2017, 14:57 IST
(पीआईबी)

पीएम मोदी केदरानाथ में पूजा अर्चना के बाद सीधे योग गुरु बाबा रामदेव के पतंजलि आयुर्वेदिक रिसर्च इंस्टीट्यूट पहुंचे. पीएम मोदी ने हरिद्वार में योगगुरु रामदेव के इंस्टीट्यूट का उद्घाटन किया. हरिद्वार में पीएम मोदी का सम्मान करते हुए योगगुरु रामदेव ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने पीएम के तौर पर देश का गौरव बढ़ाया है. मोदी देश को वरदान के रूप में मिले हैं. उनका राष्ट्र ऋषि के रूप में सम्मान होना चाहिए.

बाबा रामदेव ने साथ ही कहा कि देश में अमीर-गरीब, छोटा-बड़ा, पिछड़ा-दलित, यहां की 125 करोड़ आबादी को मोदी जी में अपना स्वरूप देखता है. रामदेव ने मोदी की तारीफ करते हुए कहा, "पीएम ने भारत को विश्व गुरु का दर्जा दिलाया है. मोदी में विश्व का नेतृत्व करने का सामर्थ्य है. जो भी मोदी जी कर रहे हैं उसमें एक आहुति मेरी भी होगी." योगगुरु रामदेव और आचार्य बालकृष्ण ने पीएम मोदी का सम्मान करते हुए उन्हें उनकी एक तस्वीर भी भेंट की. 

'भारतवासी मेरी ऊर्जा का स्रोत'

वहीं पीएम नरेंद्र मोदी ने इस मौके पर कहा, "केदारनाथ जाकर बाबा के दर्शन करने का सोभाग्य मिला और वहां से आप सबके बीच आने और आशीर्वाद पाने का मौका मिला. बाबा ने इस तरह सम्मान देकर मुझे सरप्राइज दे दिया."

उन्होंने कहा, "जिन लोगों ने मेरा लालन-पालन किया, शिक्षा दी, उनसे मैं भली-भांति जानता हूं कि आपको जो भी सम्मान मिलता है, उसके पीछे लोगों की अपेक्षाएं होती हैं. ऋषि का सम्मान देकर देकर उन्होंने मेरी जिम्मेदारियां बढ़ा दी. मुझे भारत के लोगों के आशीर्वाद पर पूरा भरोसा है, वे ही मेरी ऊर्जा के स्रोत हैं."

इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा, "योग एक ऐसा विज्ञान है जो आत्मा की चेतना के लिए जरूरी है, बाबा रामदेव ने योग को आंदोलन बना दिया और दुनिया में योग के प्रति जिज्ञासा पैदा की." उन्होंने कहा, "योग भारत के ऋषि-मुनियों की परंपरा रही है. बाबा रामदेव ने योग को आंदोलन बनाया. विश्व भर में लोग आज योग की बात करते हैं."

 

मॉडर्न रिसर्च सेंटर की तर्ज पर इंस्टीट्यूट 

योगगुरु रामदेव के रिसर्च इंस्टीट्यूट पर बात करते हुए हुए पीएम मोदी ने कहा, "रिसर्च की ताकत को हम सबने देखा है. हमारे पूर्वजों ने रिसर्च में जिंदगी खपाई, लेकिन आगे चलकर रिसर्च में उदासीनता आने से हम प्रभाव स्थापित करने में असफल रहे. अब बाबा रामदेव ने आयुर्वेद की परंपरा को दुनिया भर में स्थापित करने का बीड़ा उठाया है."

उन्होंने कहा कि दुनिया के किसी भी आधुनिक रिसर्च सेंटर को देखिये, तो बाबा रामदेव का यह सेंटर उनकी बराबरी में खड़ा है. मैं इसके लिए हृदय से बाबा रामदेव का अभिनंदन करता हूं.

गौरतलब है कि राज्य में सरकार के शपथग्रहण में शामिल होने के बाद पीएम मोदी का यह पहला उत्तराखंड दौरा है. पीएम मोदी के नेतृत्व में राज्य में भाजपा को विधानसभा चुनाव में जबर्दस्त सफलता मिली और पार्टी राज्य की सत्ता में आ गई. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचारक रहे त्रिवेंद्र सिंह रावत के सीएम के तौर पर शपथ-ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल हुए थे.

First published: 3 May 2017, 14:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी