Home » इंडिया » Uttarakhand will soon issue identity cards to ‘gau rakshaks, known as ‘gau sanrakshaks’, or cow guardians.
 

उत्तराखंड: असली गौ रक्षकों की पहचान कर राज्य सरकार देगी उन्हें आईडी कार्ड

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 August 2018, 15:28 IST

उत्तराखंड जल्द ही गौ रक्षकों को पहचान पत्र जारी करेगा और उन्हें गौ संरक्षक के रूप में जाना जाएगा. हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष एनएस रावत ने कहा, "राज्य में सभी गौ रक्षकों को अब 'गौ संरक्षकों' के रूप में जाना जाएगा.

इसी तरह सभी गौ रक्षकों को अब पहचान पत्र जारी किए जाएंगे." रावत ने कहा कि उत्तराखंड इस तरह के कार्ड जारी करने वाला पहला राज्य बन जायेगा और कुल 13 जिलों में से छह में 'असली गौ रक्षकों' की पहचान की गई है.

रावत ने कहा, "गाय सुरक्षा के नाम पर हिंसा का सहारा लेने वाले अपराधी प्रवृत्ति वालों से वास्तविक गौ रक्षकों को अलग करने के लिए पहल की गई है." रावत ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा व्यक्त की गई भावना पर विचार करने के बाद इस योजना के बारे में सोचा.

रावत ने कहा, "पीएम मोदी ने कहा था कि कुछ तत्व गाय संरक्षण के नाम पर हिंसा के लिए सहारा लेते हैं''. अगस्त 2016 में, हरियाणा और गुजरात ने भी ऐसी योजना की घोषणा की थी. गुजरात गौ सेवा अयोग ने घोषणा की थी कि वह गौ रक्षकों पर एक दस्तावेज तैयार करेगा और उन्हें मान्यता प्राप्त पहचान पत्र देने पर विचार करेगा.

ये भी पढ़ें :मुस्लिमों को बात-बात पर पाकिस्तान भेजने वाले नेताओं को शरद पवार ने दिया ऐसा जवाब..

First published: 5 August 2018, 15:23 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी