Home » इंडिया » vaiko: dmk offered 500 crores to vijaykanth
 

वाइको: डीएमके और बीजेपी विजयकांत को खरीदना चाहती थीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 March 2016, 14:33 IST

तमिलनाडु में एमडीएमके नेता वाइको ने बीजेपी और करुणनिधि की पार्टी डीएमके पर खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया है.

वाइको के मुताबिक दोनों पार्टियां डीएमडीके नेता विजयकांत को आने वाले विधानसभा चुनाव में अपने साथ मिलाने के लिए पैसे और दूसरी चीजों की पेशकश कर रही थीं, लेकिन विजयकांत ने यह पेशकश ठुकराते हुए जन कल्याण मोर्चा (पीडब्ल्यूएफ) में शामिल होने का फैसला किया हैं. 

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक वाइको ने संवाददाताओं से बातचीत करते हुए डीएमके पर आरोप लगाया कि उसने विजयकांत को चुनाव लड़ने के लिए 80 विधानसभा सीटों और 500 करोड़ रुपये की पेशकश की थी, जबकि बीजेपी की ओर से उनको राज्यसभा सीट और केंद्रीय मंत्रिमंडल में मंत्री पद का ऑफर दिया गया था.

वाइको ने कहा कि विजयकांत ने दोनों पार्टियों के प्रस्तावों को ठुकरा दिया और तमिलनाडु को भ्रष्ट सरकार से मुक्ति दिलाने के लिए के जन कल्याण मोर्चा के साथ आ गये. विजयकांत ने जनता के बीच इस बात का भरोसा पैदा किया है कि वह प्रदेश में भ्रष्टाचार मुक्त सरकार देंगे.

वहीं एमडीएमके नेता वाइको के इस बयान के बाद डीएमके प्रमुख करुणानिधि ने सख्त रुख अपनाते हुए वाइको को दीवानी और फौजदारी मानहानि की कार्यवाही की चेतावनी देते हुए कानूनी नोटिस भेजा है.

डीएमके की ओर से वकील आर धेवी ने वाइको को भेजे नोटिस में कहा है कि 'अपने मेरे मुवक्किल एम करुणानिधि की ओर से हम आपसे हमारे मुवक्किल के खिलाफ लगाए गए झूठे आरोप वापस लेने और खेद प्रकट करने की मांग करते हैं, अन्यथा हमारे मुवक्किल मानहानि को लेकर आपके खिलाफ उपयुक्त मामले में दीवानी एवं फौजदारी कार्यवाही करने के लिए बाध्य होंगे.'

First published: 26 March 2016, 14:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी