Home » इंडिया » Vaishno Devi Yatra will resume from today after being suspended from March
 

आज से शुरु हो रही वैष्णो देवी यात्रा, पांच महीने बाद माता के दर्शन कर सकेंगे भक्त, बरती होंगी ये सावधानियां

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 August 2020, 7:26 IST

Vaishno Devi Yatra: वैष्णो देवी यात्रा आज फिर से शुरु हो रही है. माता के भक्त रविवार यानी 16 अगस्त से एक बार फिर से माता के दर्शन कर सकेंगे. कोरोना वायरस (Corona Virus) की वजह से करीब पांच माह तक बंद रही वैष्णो देवी यात्रा (Vaishno Devi Yatra) पर जाने वाले तीर्थ यात्रियों को विशेष सावधानियां बरतनी होंगी. पहले सप्ताह में प्रतिदिन सिर्फ दो हजार यात्री ही माता के दर्शन कर सकेंगे. पुजारियों के संक्रमित मिलने के बाद अब इसकी एसओपी में भी बदलाव किया गया है. प्रतिदिन वैष्णो देवी की यात्रा करने वाले दो हजार तीर्थ यात्रियों में इन यात्रियों में 1,900 जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के तथा 100 अन्य राज्यों के होंगे.

तीर्थ यात्रियों के लिए बैटरी वाहन, यात्री रोपवे और हेलिकॉप्टर सेवा सुचारु रूप से चलेगी. बता दें कि वैष्णो देवी यात्रा कोरोना महामारी के कारण 18 मार्च से रोक दी गई थी. जम्मू-कश्मीर में रियासी जिले की त्रिकुटा पहाड़ियों में स्थित वैष्णो देवी गुफा मंदिर की यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन विंडो पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बाद ही लोगों को यात्रा की अनुमति दी जाएगी. वैष्णो देवी की यात्रा पर जाने वाले तीर्थ यात्रियों को अपने मोबाइल फोन में ‘आरोग्य सेतु ऐप’ डाउनलोड करना अनिवार्य होगा. इसके साथ ही चेहरे पर मास्क और कवर अनिवार्य होगा.


Coronavirus: दिल्ली में तब तक स्कूल नहीं खुलेंगे, जब तक पूरी तरह से आश्वस्त नहीं हो जाते- केजरीवाल

यात्रा के प्रवेश बिंदुओं पर यात्रियों की थर्मल जांच भी करानी होगी. इसके साथ 10 साल से कम आयु के बच्चों, गर्भवती महिलाओं एवं अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रसित लोगों और 60 साल से अधिक आयु के लोगों के लिए यात्रा नहीं करने का परामर्श जारी किया गया है. हालात सामान्य होने के बाद इस परामर्श की समीक्षा की जाएगी. कटरा से भवन जाने के लिए बाणगंगा, अर्धकुंवारी और सांझीछत के पारम्परिक मार्गों का इस्तेमाल किया जाएगा और भवन से आने के लिए हिमकोटि मार्ग-ताराकोट मार्ग का इस्तेमाल किया जाएगा.

Ganesh Chaturthi 2020: इस दिन मनाई जाएगी गणेश चतुर्थी, जानिए पूजा का मुहूर्त

PM मोदी की सुरक्षा में लालकिले पर तैनात था भारत में निर्मित ये स्पेशल चीज, खासियत जानकर करेंगे सैल्यूट

श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रमेश कुमार के मुताबिक, यात्रा में शामिल होने के लिए पंजीकरण ऑनलाइन करवाना होगा. दूसरे प्रदेशों और जम्मू-कश्मीर के रेड जोन जिलों के लोगों को कोरोना निगेटिव रिपोर्ट भी अपनी साथ रखनी होगीय इसकी जांच भवन को जाने के दौरान हेलीपैड, ड्योढ़ी गेट, बाणगंगा, कटरा में की जाएगी.

पाकिस्तान में स्वतंत्रता दिवस पर वेबसाइट हैक कर लिखा- राम लला हम आएंगे, कराची में मंदिर बनाएंगे

उसी के बाद माता के भक्त दर्शन करने जा पाएंगे. जिन यात्रियों के पास कोविड-19 से संक्रमित न होन की रिपोर्ट न होने पर उन्हें यात्रा पर नहीं जाने दिया जाएगा. पिट्ठुओं, पालकियों और खच्चरों को शुरुआत में मार्ग पर चलने पर अनुमति नहीं होगी. यात्रियों की सुविधा के लिए बैटरी चालित वाहनों, रोपवे और हेलीकॉप्टर सेवाओं जैसी सभी पूरक सुविधाओं की व्यवस्था की गई है.

कोरोना वायरस से संक्रमित पूर्व भारतीय क्रिकेटर की किडनी हुई फेल, रखा गया लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर

First published: 16 August 2020, 7:26 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी