Home » इंडिया » Varkey Foundation Global Parents Survey Indian Parents on Top in helping Children in Homework with spend 12 hours
 

बच्चों से होमवर्क कराने के मामले में भारतीय मां-बाप ने तोड़ा ये रिकॉर्ड

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 May 2018, 13:09 IST

भारतीय जितना अपने बच्चों के प्यार करते हैं उतनी ही उनके भविष्य को लेकर भी चिंतत रहते हैं. यही नहीं बच्चा की पढ़ाई लिखाई पर ध्यान देने के मामले में भी भारतीय अव्वल है. हाल ही में आई एक रिपोर्ट में इस बात का जिक्र किया गया है कि, भारत के लोग अपने बच्चों का होम वर्क कराने के मामले में दूसरे देशों की तुलना में अधिक सजग हैं.

एजुकेशन चैरिटी वर्की फाउंडेशन ने इस बात का खुलासा किया है कि भारत में मां-बाप पढ़ाई में बच्चों की सबसे ज्यादा मदद करते हैं. इस फाउंडेशन ने 29 देशों में सर्वे किया. इस सर्वे में 27,380 लोगों को शामिल किया गया. ये सर्वे पिछले साल 2 दिसंबर से इस साल 15 जनवरी के बीच किया गया.

इस सर्वे में भारत के एक हजार लोगों को शामिल किया गया. वहीं बाकी देशों के 17,380 लोग शामिल थे. इस सर्वे को पूरी तरह से ऑनलाइन किया गया था. सर्वे के नतीजे चौकाने वाले थे. इस सर्वे के नतीजों से पता चला कि बच्चों की पढ़ाई में मदद के मामले में भारतीय मां-बाप पहले नंबर पर हैं.

सर्वे में शामिल 72 फीसदी भारतीय मां-बाप ने ये बात स्वीकार की, कि पिछले 10 साल में भारत के एजुकेशन स्टेंडर्ड में सुधार हुआ है. वहीं बाकी देश के मां-बापों ने एजुकेशन स्टेंडर्ड को इतना अच्छा नहीं माना. यानी इस मामले में भी भारत नंबर वन पर रहा.

वहीं होमवर्क में मदद करने वाले सर्वे पर नजर डालें तो भारत पड़ोसी देश चीन और विश्‍व शक्ति अमेरिका से भी कहीं आगे है. इस सर्वे में पता चला कि भारतीय मां-बाप एक हफ्ते में 12 घंटे अपने बच्चों का होमवर्क कराने के लिए देते हैं. वहीं वहीं चीनी में मां-बाप सिर्फ 7 घंटे और अमेरिकी में मात्र 6 घंटे बच्चों का होमवर्क कराने में खर्च करते हैं.

ये भी पढ़ें- Cannes 2018: कंगना ने ट्रांसपेरेंट गाउन से सबको किया बोल्ड, फोटोज वायरल 

First published: 11 May 2018, 13:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी