Home » इंडिया » Veteran journalist Kuldeep Nayyar passed away in Delhi hospital was 95 years old
 

वरिष्ठ पत्रकार कुलदीप नैयर का 95 की उम्र में निधन, कई दशकों से कर रहे थे पत्रकारिता

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 August 2018, 9:05 IST

वरिष्ठ पत्रकार कुलदीप नैयर का 94 साल की अवस्था में निधन हो गया है. देश के जाने माने पत्रकार कुलदीप नैयर काफी दशकों से पत्रकारिता में सक्रिय थे. उन्होंने कई किताबें भी लिखी थीं. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, वह बीते तीन दिनों से दिल्ली के एक अस्पताल में आईसीयू में भर्ती थे. दरअसल उनकी सेहत काफी समय से बहुत खराब थी.

खबर के अनुसार गुरुवार की सुबह एक बजे के आस-पास उन्होंने अंतिम सांस ली. उनका आज दोपहर एक बजे लोधी रोड पर स्थित घाट में अंतिम संस्कार होगा.

कुलदीप नैयर ने अपने करियर की शुरुआत बतौर उर्दू प्रेस रिपोर्टर की थी. कुलदीप नैयर डेक्कन हेराल्ड (बेंगलुरु), द डेली स्टार, द संडे गार्जियन, द न्यूज, द स्टेट्समैन, द एक्सप्रेस ट्रिब्यून पाकिस्तान, डॉन पाकिस्तान, प्रभासाक्षी सहित 80 से अधिक समाचार पत्रों के लिए 14 भाषाओं में कॉलम और ऑप-एड लिखते हैं. वह दिल्ली के समाचार पत्र द स्टेट्समैन के संपादक भी रह चुके थे.

पत्रकारिता के अलावा वह बतौर एक्टिविस्ट भी कार्यरत थे. इमरजेंसी के दौरान कुलदीप नैयर को भी गिरफ्तार किया गया था. नैयर 1996 में संयुक्त राष्ट्र के लिए भारत के प्रतिनिधिमंडल के सदस्य थे. 1990 में उन्हें ग्रेट ब्रिटेन में उच्चायुक्त नियुक्त किया गया था, अगस्त 1997 में राज्यसभा में नामांकित किया गया था.

पढ़ें- जम्मू-कश्मीर: बकरीद पर आतंकियों ने की 3 पुलिसकर्मियों की हत्या, छुट्टी मनाने घर आए इंस्पेक्टर को मारी गोली

उन्होंने 'बिटवीन द लाइन्स', ‘डिस्टेण्ट नेवर : ए टेल ऑफ द सब कॉनण्टीनेण्ट', ‘इण्डिया आफ्टर नेहरू', ‘वाल एट वाघा, इण्डिया पाकिस्तान रिलेशनशिप', ‘इण्डिया हाउस', ‘स्कूप' ‘द डे लुक्स ओल्ड' जैसी कई मशहूर किताबें लिखीं. साल 1985 से उनके द्वारा लिखे गये सिण्डिकेट कॉलम विश्व के अस्सी से ज्यादा पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित होते रहे.

First published: 23 August 2018, 8:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी