Home » इंडिया » Video: CCTV footage of moment when Journalist Sandeep Sharma was run over by a truck in Bhind
 

भिंड पत्रकार हत्याकांड: संदीप ने किया था पुलिस और रेत माफियाओं के मिलीभगत का स्टिंग ऑपरेशन

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 March 2018, 9:47 IST

मध्य प्रदेश के भिंड में ट्रक से कुचलकर एक स्थानीय चैनल के पत्रकार संदीप शर्मा की मौत हो गई. खास बात यह है कि पत्रकार ने मध्य प्रदेश में रेत माफिया और एक पुलिस अधिकारी के खिलाफ स्टिंग ऑपरेशन किया था. इस ऑपरेशन के बाद उन्हें जान से मारने की धमकी मिली थी. पत्रकार ने इसके खिलाफ प्रधानमंत्री मोदी और राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर अवगत कराया था.

पत्रकार ने अपनी सुरक्षा की भी मांग की थी लेकिन सोमवार को जब वह करीब साढ़े आठ बजे अपनी मोटरसाइकिल से जा रहे थे तो पीछे से आ रही ट्रक ने उन्हेंं कुचल दिया. इसकी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई. संदीप को तत्काल अस्पताल ले जाया गया लेकिन उनकी मौत हो गई. वीडियो में साफ दिख रहा है कि संदीप शर्मा बाइक से जा रहे थे तभी पीछे से बाईं तरफ मुड़कर आए ट्रक ने संदीप की बाइक को टक्कर मार दी और आगे बढ़ गया।

ट्रक खाली होने की वजह से ड्राइवर मौके से फरार हो गया. ट्रक को पुलिस ने बरामद कर लिया है और ड्राइवर को भी गिरफ्तार किया जा चुका है. पत्रकार की मौत के बाद पूरे राज्य में इस घटना को लेकर सवाल उठने लगे हैं.

 

परिवारीजनों का कहना है कि संदीप शर्मा का एक्सीडेंट नहीं हुआ उनकी हत्या की गई है. परिवार का आरोप है कि शर्मा ने रेत माफिया और पुलिस के बीच मिलीभगत का पर्दाफाश किया था इस वजह से उनकी हत्या करवा दी गई. जानकारी के मुताबिक संदीप ने जिस पुलिस अधिकारी के खिलाफ स्टिंग ऑपरेशन किया था उसने उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी थी.

परिवार का आरोप है कि इसी वजह से उनकी हत्या की गई. परिवार के लोगों का कहना है कि जानबूझकर ट्रक उनका पीछा कर रहा था और कोतवाली के नज़दीक ही ट्रक ने उन्हें टक्कर मारी. परिवार का कहना है कि पुलिस पर भी उंगली उठ रही है इसलिए SIT बना दी गई है.

वहीं मामले पर भिंड के एसपी प्रशांत खरे ने कहा है कि वे हर एंगल से मामले की जांच करवा रहे हैं. उन्होंने कहा कि ट्रक जब्त किया जा चुका है, उसके मालिक का पता लगाया जा रहा है. खरे ने कहा कि आशंका है कि घटना में चोरी का ट्रक इस्तेमाल किया गया है. खरे ने कहा कि यह कहना जल्दबाजी होगी कि यह दुर्घटना थी या जानबूझकर मारा गया है.

 

उन्होंने कहा कि पुलिस ने इस संबंध में धारा 304 (गैर इरादतन हत्या) के तहत आरोपी ट्रक चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. इसके अलावा, इस हादसे की जांच के लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) भी गठित कर दी गई है.

पढ़ेंं- मोदी सरकार के खिलाफ आज लोकसभा में 4 अविश्वास प्रस्ताव

इसी बीच, पत्रकार संदीप के भांजे विकास पुरोहित ने सिटी कोतवाली पुलिस थाने में अपनी शिकायत में बताया कि संदीप शर्मा ने मध्यप्रदेश के पुलिस महानिदेशक, पुलिस महानिरीक्षक, भिंड पुलिस अधीक्षक एवं मानव अधिकार आयोग को कई बार आवेदन देकर रेत माफियाओं से अपनी जान को खतरा बताया था और सुरक्षा की मांग की थी.

बता दें कि संदीप के परिवार में उनकी पत्नी के अलावा दो छोटे बच्चे हैं. संदीप के एक भाई फौज में थे जो अप्रैल 2004 में आतंकियों से लड़ते हुए शहीद हो गए थे.

First published: 27 March 2018, 9:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी