Home » इंडिया » DRDO conducts successful maiden flight of Rustom-II UAV
 

देखिए स्वदेशी ड्रोन रुस्तम-2 की पहली सफल उड़ान

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:47 IST
(पत्रिका)

भारत के पहले स्वदेशी ड्रोन (यूएवी) रुस्तम-2 का पहला सफल परीक्षण किया गया. इसका परीक्षण बेंगलुरु से करीब 250 किलोमीटर दूर चित्रदुर्ग में एयरोनॉटिकल टेस्ट रेंज से किया गया, जो मानवरहित यानों और मानवविमानों के परीक्षण के लिए नवविकसित उड़ान परीक्षण स्थल है.

रुस्तम-2 मध्यम ऊंचाई पर लंबी अवधि तक उड़ान भरने में सक्षम मानवरहित विमान (यूएवी) है. यह 24 घंटे तक उड़ान भर सकता है. इस मानवरहित यान को अमेरिका के प्रिडेटर ड्रोन की भांति मानवरहित लड़ाकू यान के रूप में उपयोग में लाया जा सकता है.

रुस्तम-2 का डिजाइन और विकास डीआरडीओ की बेंगलुरु की प्रयोगशाला एयरोनॉटिकल डेवलपमेंट एस्टैब्लिशमेंट और एचएएल-बीईएल ने मिलकर किया है. 

First published: 17 November 2016, 12:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी