Home » इंडिया » Video: Terrorist father showing gratitude to the security forces for saving and Surrender of his son
 

Video: कोई नहीं करेगा फायर..हवा में हाथ उठा बाहर आया आतंकी..किया सरेंडर, पिता ने छू लिए जवान के पैर

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 October 2020, 11:13 IST

जम्मू कश्मीर में भारतीय सेना एक तरफ तो आतंकियों का सफाया करने में लगी हुई हैं तो दूसरी तफर उन्हें सरेंडर करके सार्वजनिक जीवन में वापस लाने की है. भारतीय सेना की कोशिश है कि अधिक से अधिक आतंकियों को सरेंडर करवाया जाए. शुक्रवार को बडगाम के चंडूरा में इसकी नजीद देखने को मिली. जहां सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को सरेंडर करवाया. सुरक्षाबलों ने आतंकी बने युवक को भरोसा दिलाया कि कोई उसे गोली नहीं मारेगा, अगर वो अपने हथियार डाल डे और वापस आ जाए. सुरक्षाबलों की कोशिश रंग लाई और आतंकी ने हथियार डाल दिए और सरेंडर कर दिया.  इसके बाद इस व्यक्ति के पिता ने वहां मौजूद एक जवान के पैर छू लिए. इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

भारतीय सेना के चिनार कॉप्स के ट्विटर हैंडल से इस घटना का एक वीडियो भी शेयर किया गया है. वायरल वीडियो में सुरक्षाकर्मियों की आवाज साफ सुनी जा सकती है. वीडियो में सुरक्षाकर्मी आतंकी से यह कहते हुए सुने जा रहे हैं- इधर आ इधर आ...इधर-इधर...कोई नहीं चलाएगा...कोई फायर नहीं करेगा...आजा इधर आ जा छोटू...ऑल पार्टी क्वाइट (सभी पक्ष शांत रहें), जहांगीर पीछे देखो... पैंट पहनो अपना पैंट पहनो...और आगे आओ, इधर ही आगे आओ...बस आते रहो...जर्सी छोड़ दो, जर्सी छोड़ दो. ऊपर करो हाथ."


 

बता दें, सुरक्षाबलों के कहने के बाद आतंकी हाथ ऊपर उठाकर सुरक्षा बलों के पास आता है. इसके बाद सुरक्षाकर्मी उससे पूछते हैं,"कोई और नहीं है? वेपन है? वहीं है...कोई बात नहीं है...कुछ नहीं होगा बेटा...एकदम आराम से..आ जाओ...शाबाश-शाबाश...अरे उसका वेपन उठाओ. आराम से बेटा...तुम चिंता मत करो...पानी दो ऐ पानी लाओ...सारे दूर रहो...सारे दूर हो जाओ प्लीज...वेपन है?" इसके बाद आतंकी अपने हाथ के इशारा करके बतात है कि उसके हथियार कहां पर है. इसके बाद सुरक्षाबलों के जवान वहां जाते हैं और 2 एके-47 राइफलों को लेकर आते हैं." वहीं इसके बाद इस युवक का पिता वहां पर आता हैं और अपने पिता को देख बेटा गले लगकर रोने लगता है. इसके बाद उसके पिता वहां मौजूद एक सुरक्षाकर्मी के पैर छू लेते हैं.

First published: 17 October 2020, 11:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी