Home » इंडिया » Video: What happened when snake & mongoose came in front of each other at Moradabad Highway
 

देखिये, क्या हुआ जब हाईवे के बीचों-बीच हुई दो जानी दुश्मनों की जंग

पत्रिका ब्यूरो | Updated on: 11 September 2016, 14:41 IST

आपने कि‍स्से-कहानियों और पंचतंत्र में सांप और नेवले की दुश्मनी के बारे में खूब पढ़ा होगा. क्या वाकई में इन दो जीवों में परंपरागत और जानी दुश्मनी है ये सवाल अक्सर हमारे और आपके जेहन में घूमता रहता है, जबकि अभी तक इसका वाजिब जवाब किसी के पास नहीं है. 

उधर वैज्ञानिक तर्क है कि यह परस्पर जीव संघर्ष से ज्यादा कुछ भी नहीं. फिर भी हमारे समाज में इन दो जीवों की कहानियां काफी रोमांचक ही होती हैं, जिनके अनुसार इन दोनों जीवों में जानी दुश्मनी है और जब भी ये आमने-सामने आते हैं तो जानलेवा युद्ध चलता है. 

चार सांपों को मारकर मालिक के लिए कुत्ते ने दी जान

जी हां, कुछ ऐसा ही नजारा हकीकत में मुरादाबाद-आगरा हाईवे पर भी देखने को मिला. जब हाईवे से सटी झाड़ियों के एक ओर से किंग कोबरा निकला और दूसरी ओर से नेवला. इसके बाद दोनों में हाईवे पर बीचों-बीच करीब एक घंटे से अधिक लड़ाई चली. इस दौरान दोनों ओर का ट्रैफिक भी थम गया.

आप भी देखिए ये रीयल फाइटः

बिलारी थाना क्षेत्र में आगरा-मुरादाबाद हाईवे पर एकाएक वाहनों के पहिये उस वक्त थम गए जब बीच हाईवे सांप और नेवले का युद्ध शुरू हुआ और दोनों लगातार अपने परंपरागत पैतरों से एक-दूसरे को मात देने में जुट गए. सांप अपना फन फैलाकर वार करता तो नेवला तेजी से बच जाता, वहीं नेवला भी अपने नुकीले दांतों से फन पर वार करता रहा. हाईवे पर ये रोमांचक युद्ध देखने के लिए हर कोई रुक गया.

यही नहीं लोगों ने इस अद्भुत युद्ध को अपने मोबाइल और कैमरे में उतरना शुरू कर दिया. दोनों जानी दुश्मन बेखौफ होकर एक दूसरे को पटखनी देने में डटे हुए थे, जबकि वाहनों का और वहां खड़े लोगों का शोर भी उनके इस युद्ध में व्यवधान नहीं डाल रहा था. करीब एक घंटे से अधिक ये लड़ाई चली जिसमें दोनों ही घायल हो गए, लेकिन सांप को चोट ज्यादा आई. 

वीडियो: देखिए मां की ममता ने कैसे बचाई चूहे की जान

वहीं, लोगों के ज्यादा शोर के कारण नेवला झाड़ियों में भाग गया. जबकि सांप काफी देर तक फन फैलाए हाईवे पर ही डटा रहा. लोगों ने उसे झाड़ियों में डंडे के सहारे भेजा.

बीच हाईवे इस अद्भुत लड़ाई को देखकर राहगीर काफी रोमांचित हुए. क्‍योंकि अभी तक सिर्फ किस्से या सिर्फ वैज्ञानिक चैनलों पर ही इस तरह की लड़ाई देखने में मिलती है और जब दो जानी दुश्मन वास्तविकता में आमने-सामने हो तो फिर ऐसी लड़ाई देखने का मजा ही कुछ और है.

First published: 11 September 2016, 14:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी