Home » इंडिया » Vijay Mallya claims he met Finance Minister arun jetley before he left India
 

भगोड़े विजय माल्या का दावा, वित्त मंत्री से मिलने के बाद छोड़ा था भारत

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 September 2018, 19:00 IST
(file photo )

भारत के बैंकों से करोड़ों का कर्ज लेकर फरार चल रहे शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण मामले में बुधवार को लंदन के वेस्टमिंस्टर कोर्ट में सुनवाई की गई. इसको लेकर भगोड़ा विजय माल्या भी कोर्ट में पेश हुआ. इस दौरान माल्या ने दावा किया है कि उसने भारत छोड़ने से पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की थी. उसने कहा कि उसको राजनीतिक साजिश के तहत फंसाया गया है. मामले की अगली सुनवाई 18 सितंबर को होगी.

Times now Hindi की खबर के मुताबिक, माल्या ने कोर्ट में पेशी पर जाते समय कहा कि भारत छोड़ने से पहले वह वित्त मंत्री अरुण जेटली से मिला था. उसको राजनीति के तहत फंसाया गया है. इस मामले को लेकर उसने कर्नाटक हाई कोर्ट के सामने समझौते की पेशकश की है. वह कर्ज को लेकर समझौते के लिए तैयार है. क्या ये पेशकश कोर्ट को भी मंजूर है? इस सवाल के जवाब में माल्या ने कहा स्पष्ट रूप से इसीलिए समझौते की पेशकश की गई है.

वहीं, सुनवाई के दौरान माल्या के वकील ने कहा कि कर्ज में डूबी किंगफिशर एयरलाइन को हुए नुकसान के बारे में आईडीबीआई बैंक के अधिकारियों को पहले से जानकारी थी. वह इसके बारे में अच्छी तरह जानते थे. यह बात आईडीबीआई बैंक के अधिकारियों की तरफ से आए ई-मेल्स से स्पष्ट हो जाती है. माल्या के वकील ने कहा कि सरकार की तरफ से आरोप लगाया जा रहा है कि माल्या ने नुकसान की जानकारी को छिपाया था. जो पूरी तरह से आधारहीन है.

गौरतलब है कि विजय माल्या पर भारत में बैंकों के करीब 9000 करोड़ रुपये के धोखाधड़ी और धनशोधन के आरोप हैं. माल्या के खिलाफ केस चल रहा है. माल्या फिलहाल लंदन में रह रहा है. जहां उसके प्रत्यर्पण को लेकर कोर्ट में सुनवाई हो रही है.

ये भी पढ़ें- विजय माल्या की 6,600 करोड़ रुपये की संपत्ति और शेयर जब्त

First published: 12 September 2018, 18:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी